कार्यालय में बैठक:आयुष्मान योजना से जुड़े नर्सिंग होम पास के पंचायत को लेंगे गाेद

धनबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना आयुष्मान भारत से अधिक से अधिक लोगों को जोड़ने के लिए सोमवार को सिविल सर्जन कार्यालय में बैठक आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए सिविल सर्जन डॉ एसके कांत ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को आयुष्मान योजना से जोड़ने के काम में तेजी लाने की आवश्यकता है। ग्रामीण क्षेत्र के हर पंचायत में वैसे योग्य व्यक्तियों को इस योजना से जोड़ने के लिए कार्य किया जाएगा। बैठक में आयुष्मान से जुड़े नर्सिंग होम के प्रतिनिधि भी शामिल हुए।

नर्सिंग होम के प्रतिनिधियों से यह आग्रह किया गया कि वे कम से कम दो पंचायतों को गोद लें और वहां के लोगों को आयुष्मान योजना से जोड़कर उनका गोल्डन कार्ड बनावें। इससे योग्य व्यक्तियों को योजना का लाभ मिल सकेगा।

फर्जीवाड़े की जांच के लिए बनेगी टीम
राज्य के कई जगहों से आयुष्मान से जुड़े फर्जीवाड़ा की खबरें अक्सर प्रकाश में आती रही है। धनबाद में भी ऐसा ना हो या फिर कोई कर रहा हो तो उन सभी पर निश्चित ही कार्रवाई होगी।
इसके लिए एक टीम का गठन किया जाएगा जो इस तरह के मामलों की जांच करेगी। आयुष्मान योजना के समन्वयक बनाए गए संजुत सहाय ने बताया कि एक से दो दिनों में ही टीम का गठन किया जाएगा और आयुष्मान से जुड़े केंद्रों में जांच की जाएगी। इस तरह के मामलों पर सरकार की ओर से गंभीर निगरानी रखी जा रही है।

खबरें और भी हैं...