सांसद ने अफसराें पर जताई नाराजगी:सरकारी विभाग में ठेका मैनेज कर रहे हैं अफसर: पीएन सिंह

धनबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सांसद पीएन सिंह। - Dainik Bhaskar
सांसद पीएन सिंह।

सांसद पीएन सिंह ने लघु सिचाई विभाग, आरईओ, पथ प्रमंडल, भवचन प्रमंडल विभाग के अफसराें पर टेंडर मैनेज करने का आराेप लगाया है। बुधवार काे डीसी से मिलने गए सांसद पीएन सिंह ने डीसी संदीप सिंह के समक्ष इस मुद्दे काे रखा और इस पर राेक लगाने की मांग की। उन्हाेंने डीसी से कहा कि सभी विभागाें में अफसर खुलेआम मनमानी कर रहे हैं। कहीं ठेकेदाराें काे टेंडर में भाग लेने से राेका जा रहा है ताे कहीं ठेकेदार काे टेंडर पेपर डालने ही नहीं दिया जा रहा। यह सब खेल सत्ता पक्ष के इशारे पर किया जा रहा है।

उन्हाेंने डीसी से कहा कि बुधवार काे लघु सिचाई विभाग में टेंडर पेपर डाला जा रहा था। एक याेजना के लिए तीन संवेदकाें ने टेंडर डाला, लेकिन विभाग के अफसराें ने सिंगल टेंडर पड़ने की बात कह कर ठेकेदाराें काे भ्रमित करने का प्रयास किया। जब ठेकेदाराें ने विराेध किया और टेंडर बाॅक्स खाेलने की मांग की ताे बाॅक्स खाेला गया, जिसमें तीन पेपर बरामद हुआ। उन्हाेंने डीसी से कहा कि इन विभागाें में टेंडर की व्यवस्था काे पारदर्शी बनाया जाए।

झरिया की घटना काे लेकर प्रशासन असंवेदनशील: सांसद

सांसद पीएन सिंह ने कहा कि झरिया में घटित घटना काे लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह से असंवेदनशील है। जिला प्रशासन के साथ-साथ बिजली विभाग के अफसर सभी असंवेदनशील बने हुए हैं। झरिया में 11 हजार वाेल्ट की तार की चपेट में आए एक ही परिवार के पांच लाेग जख्मी हाे गए थे। जख्मी पांच में से 2 परिजनाें की माैत हाे चुकी है, जबकि तीन का अभी भी इलाज चल रहा है, लेकिन प्रशासन की ओर से इस पर काेई ध्यान नहीं दिया गया। इस मुद्दे काे लेकर बुधवार काे सांसद पीएन सिंह उपायुक्त संदीप सिंह से मिले और मृतकाें काे मुआवजा व घायलाें के इलाज के लिए समुचित व्यवस्था करने की मांग की।

उन्हाेंने डीसी से कहा कि तीन-तीन लाेगाें के इलाज का खर्च उठाना बहुत मुश्किल हाे रहा है। उन्हाेंने आयुष्मान याेजना के तहत सभी घायलाें का इलाज कराने की मांग की। उपायुक्त ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। उन्हाेंने बेलगड़िया में जमीन विवाद का भी मुद्दा उठाया। कहा कि जब बीसीसीएल जमीन का इस्तेमाल नहीं कर रही है ताे उसे वापस रैयताें काे लाैटा दे।

खबरें और भी हैं...