हीरापुर के अभया अपार्टमेंट में डाकाकांड का खुलासा:लूटा माेबाइल गर्लफ्रेंड काे गिफ्ट में दिया सिम लगाते ही गैंग तक जा पहुंची पुलिस

धनबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
देवरिया में पहली बार मिला लूटे मोबाइल का लोकेशन। - Dainik Bhaskar
देवरिया में पहली बार मिला लूटे मोबाइल का लोकेशन।

हीरापुर स्थित अभया अपार्टमेंट के दाे फ्लैटों में हुई डकैती की घटना का खुलासा बहुल ही राेचक तरीके से हुआ। घटना के बाद से पुलिस लाेकल और दूसरे जिलाें के संदिग्धाें काे हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही थी, लेकिन सुराग नहीं मिल पा रहा था। लूट के माेबाइल काे भी पुलिस ने सर्विलांस पर रखा था ताकि मदद मिल सके। इस बीच पुलिस काे माेबाइल का लाेकेशन देवरिया मिला।

यह लीड पुलिस के लिए काफी महत्वपूर्ण थी। सदर पुलिस की टीम देवरिया पहुंची ताे पता चला कि एक युवती ने माेबाइल में अपना सिम लगाया था। पूछताछ में बताया कि मुन्ना ने उसे माेबाइल दिया था। मुन्ना भी पुलिस के पकड़ में आ गया लेकिन उसने पुलिस से घटना में शामिल हाेने से इनकार करता रहा। फिर कड़ाई से पूछताछ करने पर बताया कि युवती उसकी गर्लफ्रेंड है। गिफ्ट में माेबाइल दिया था। पुलिस ने माेबाइल भी बरामद कर लिया।

लूट का माल बेचने के बाद मेंबरों को मिला था हिस्सा

देवरिया का रहने वाले मुन्ना के अलावा देवव्रत और भाेला भी घटना में शामिल थे। भाेला मुन्ना का चचेरा भाई है। बाेकाराे का रामजी साव, प्रकाश एवं राजू भी घटना में शामिल था। रामजी पकड़ा गया जबकि प्रकाश व राजू फरार हैं। गिराेह का मास्टरमाइंड सीवान का अजय चाैहान उर्फ याेगेंद्र यादव उर्फ मास्टर है। घटना काे अंजाम देने व लूट का माल बेचने के बाद पैसा शामिल लाेगाें तक पहुंचाता था। मुन्ना व रामजी पकड़े गए हैं। मास्टर भी हरनाैत में पकड़ा गया है, जाे नालंदा जेल में बंद है।

खबरें और भी हैं...