वीरता पुरस्कार:यूपी के गृह सचिव गाेविंदपुर के एसके भगत को राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार

धनबादएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • भाजपा के विधायक की हत्या के आराेपी काे साल 2006 में एनकाउंटर में मार गिराया था, 14 साल बाद मिल रहा सम्मान

गाेविंदपुर के रहनेवाले और यूपी सरकार के गृह विभाग में सचिव एसके भगत का चयन राष्ट्रपति पुलिस गैलेंट्री अवॉर्ड के लिए किया गया है। भगत उस एसटीएफ में शामिल थे, जिसने साल 2006 में बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या में शामिल शूटर फिरदाैस काे मुंबई के एक माॅल में हुए एनकाउंटर में मार गिराया था। उस टीम में यूपी के माैजूदा आईजी भर्ती बोर्ड विजय भूषण, एसपी बाराबंकी डॉ अरविंद चतुर्वेदी अाैर डिप्टी एसपी, मऊ धनंजय मिश्रा भी शामिल थे और इन सबका चयन गैलेंट्री अवॉर्ड के लिए किया गया है। साल 2005 में कृष्णानंद राय की हत्या कर दी गई थी। इस सिलसिले में एसटीएफ का गठन किया गया था। यह टीम आराेपियाें मुन्ना बजरंगी, अताउर्रहमान, विश्वास नेपाली, राकेश पांडे और फिरदौस की तलाश में थी। एक साल बाद उनके मुंबई में हाेने की जानकारी एसटीएफ काे मिली, ताे वह मुंबई पहुंची। वहीं मुठभेड़ में फिरदौस मारा गया था। दिवंगत डीएन भगत के बेटे एसके भगत को इसके पहले साल 2013 में भी राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार दिया गया था।

खबरें और भी हैं...