• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • Raiyats Who Have Been Staging A Sit in For 22 Days In Bastakela Will Get Planning And Compensation, Transportation May Start

एसडीओ की माैजूदगी में त्रिपक्षीय वार्ता में बनी सहमति:बस्ताकाेला में 22 दिन से धरना दे रहे रैयताें काे मिलेगा नियाेजन व मुआवजा, शुरू हो सकती है ट्रांसपोर्टिंग

धनबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बस्ताकाेला न्यूट पीट में नियाेजन और मुआवजे की मांग काे लेकर रैयताें का आंदाेलन के अब समाप्त हाे जाने की उम्मीद है। रैयताें के मुद्दे काे लेकर मंगलवार काे एसडीओ प्रेम कुमार तिवारी की माैजूदगी में हुई त्रिपक्षीय वार्ता में रैयताें के नियाेजन और मुआवजा भुगतान पर सहमति बन गई है।

बैठक में झरिया विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह और एरिया 9 के जीएम समेत बच्चा सिंह गुट और सिंह मेंशन गुट के समर्थक माैजूद थे। बैठक में झरिया विधायक ने रैयताें की मांग काे जायजा ठहराते हुए उन्हें नियाेजन और मुआवजा देने की मांग रखी।

उन्हाेंने कहा कि बस्ताकाेला में चल रही आउटसाेर्सिंग कंपनी में 55 रैयताें की जमीन ली गई है। रैयती की मांग है कि उनकी जमीन के बदले बीसीसीएल उन्हें मुआवजा दे। आउटसाेर्सिंग कंपनी में नियाेजन भी मिले। एसडीओ ने बताया कि वार्ता सार्थक रही और एरिया 9 के जीएम ने नियाेजन और मुआवजा भुगतान पर सहमति दी है। नियाेजन व मुआवजा भुगतान की प्रक्रिया बीसीसीएल स्तर पर पूरी की जाएगी।

रैयतों ने ठप करा रखी है ट्रांसपोर्टिंग, दोनों पक्षों में तनाव की स्थिति

बस्ताकाेला न्यू पीट स्थित आउटसाेर्सिंग कंपनी में नियाेजन की मांग काे लेकर स्थानीय ग्रामीण 15 नवंबर से ही धरना दे रहे हैं। रैयताें ने ट्रांसपाेर्टिंग भी ठप कर रखी है। रैयत बच्चा गुट के हैं। मांग काे पूरा कराने के लिए ग्रामीणाें ने आरटीपीएस, बीएनआर और पीटीपीएल में भी ट्रांसपाेर्टिंग ठप कर दी गई है। ट्रांसपाेटिंग काे लेकर ही पिछले 20-22 दिन से सिंह मेंशन और रघुकुल के समर्थकाें के बीच तनाव बना हुआ है। हाइवा जलाने से लेकर मारपीट की घटनाएं भी हाे चुकी हैं। सिंह मेंशन गुट ट्रांसपोर्टिंग चालू कराने की मांग कर रहा है।

मेंशन और रघुकुल समर्थकों ने एक दूसरे पर दर्ज कराया केस : दाेनाें गुट में रविवार को हुई मारपीट में मंगलवार काे धनसार थाना में केस दर्ज हुए। सिंह मेंशन समर्थक सह भेड़ाकांटा निवासी लक्ष्मी देवी ने रघुकुल समर्थक रामकृष्ण पाठक, मनीष, बबलू सिंह, दिवाकर सिंह एवं राजू खान अन्य लोगों के खिलाफ छेड़खानी, जातिसूचक शब्द प्रयोग करने व ट्रांसपोर्टर से 500 रुपए प्रति टन रंगदारी बंगला पहुंचाने के लिए दबाव बनाने का केस दर्ज कराया। वहीं रघुकुल समर्थक अरविंद हांसदा ने मनोज गोप, चंदन सिंह, पप्पू पासवान, प्रदीप गोप, प्रदीप पासवान, शैलेंद्र सिंह समेत अन्य पर।

खबरें और भी हैं...