पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह की हत्या की साजिश:दुमका से साढ़े पांच माह बाद धनबाद जेल शिफ्ट हुए संजीव

धनबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

झरिया के पूर्व विधायक संजीव सिंह को शनिवार काे दुमका से धनबाद जेल में शिफ्ट कर दिया गया। दुमका से कड़ी सुरक्षा में उन्हें लाया गया। जानकारी के मुताबिक, दो सप्ताह पहले झारखंड हाई कोर्ट ने संजीव काे धनबाद जेल में रखने का आदेश दिया था। उसी के मुताबिक, जेल आईजी ने शुक्रवार काे उन्हें धनबाद जेल शिफ्ट करने का निर्देश दिया था।

शनिवार काे शाम 4 बजे संजीव काे दुमका केंद्रीय कारा से धनबाद रवाना किया गया। शाम 7 बजे वे धनबाद पहुंचे। संजीव काे लाने के लिए मेंशन और भाजपा समर्थक दुमका गए थे। गाैरतलब है कि संजीव पर अपने चचेरे भाई और पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह की हत्या की साजिश में शामिल हाेने का आराेप है। नीरज समेत चार लाेगाें की 21 मार्च 2017 काे स्टीलगेट में गाेली मारकर हत्या कर दी गई थी। संजीव इस मामले में अप्रैल 2017 से ही जेल में हैं। जिला प्रशासन ने 22 फरवरी 2021 को उन्हें दुमका शिफ्ट किया था।

शिफ्टिंग के खिलाफ हुआ था धरना-प्रदर्शन
संजीव सिंह को दुमका शिफ्ट किए जाने का उनके समर्थकाें और भाजपा ने विराेध किया था। धरना-प्रदर्शन भी किया था। संजीव की पत्नी रागिनी सिंह ने झरिया विधायक पूर्णिमा सिंह पर राजनीतिक साजिश के तहत पति काे दुमका भिजवाने काआराेप लगाया था। संजीव की ओर से भी शिफ्टिंग के खिलाफ याचिका दायर की गई थी। अब काेर्ट के आदेश पर ही उन्हें करीब साढ़े पांच महीने बाद धनबाद जेल शिफ्ट किया गया है।

खबरें और भी हैं...