जेल से रंगदारी वसूली पर गृह विभाग का खुलासा:हाई सिक्योरिटी सेल में बंद सुजीत ने यूपी में भी फैलाया गैंग, नहीं रोक पाया धनबाद जेल प्रशासन

धनबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुजीत सिन्हा। फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
सुजीत सिन्हा। फाइल फोटो
  • यूपी से गिरफ्तार क्रिमिनल ने कबूला-जेल से सुजीत करता था शूटरों को ऑपरेट

गैंगस्टर सुजीत सिन्हा धनबाद जेल की हाई सिक्योरिटी सेल में इकलौते बंदी के रूप में कैद रहकर भी अपना गैंग का विस्तार यूपी तक कर लिया। पलामू के हैदरनगर में अशोका बिल्डकॉन कंपनी के कैंप पर हुई गोलीबारी में रांची की अरगोड़ा पुलिस ने अमित चौधरी और पलामू पुलिस ने यूपी के बांदा से अभिषेक पांडेय नामक दो क्रिमिनलों को गिरफ्तार किया है।

दोनों ने पूछताछ में खुलासा किया कि धनबाद जेल में बंद सुजीत सिन्हा के कहने पर ही उन्होंने शूटरों का हायर किया। फिर बमबाजी-फायरिंग की गई। दोनों के कबूलनामे पर झारखंड के गृह विभाग के भी कान खड़े हुए। गृह विभाग के निर्देश पर जेल आईजी ने धनबाद जेल प्रशासन को पत्र भेजकर सुजीत को गुमला जेल ट्रांसफर करने का आदेश दिया। आईजी के पत्र के बाद सुजीत को गुमला जेल शिफ्ट कर दिया गया है। सुजीत को इसी साल 3 जून को घाघीडीह से धनबाद जेल लाया गया था।

भास्कर एक्सक्लूसिव : धनबाद जेल से वर्चुअल नंबर से गैंग विस्तार कर रहा था गैंगस्टर सुजीत
पलामू पुलिस की पूछताछ में अभिषेक पांडेय ने बताया कि वह सुजीत के कहने पर बाहर शूटरों का बंदोबस्त करता है। सुजीत ही शूटरों को ऑपरेट करने का निर्देश उसे जेल से दिया करता था। सुजीत उससे और अन्य गैंग मेंबरों से वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (वीपीएन) के माध्यम से जुड़ा रहता है। वीपीएन वह माध्यम है, जिसके जरिए इंटरनेट के माध्यम से कॉलिंग होती है। इस नंबर का लोकेशन ट्रेस करना दुरुह है। बातचीत रिकॉर्ड भी नहीं की जा सकती है।

सुजीत गैंग को सिमकार्ड देने वाले दो गुर्गों ने भी उगले राज
रांची की होटवार जेल में बंद हरि तिवारी भी सुजीत के निर्देश पर वर्चुअल नंबर के जरिए कांडों को अंजाम दिलवाता है। हरि तक सिमकार्ड पहुंचाने के आरोप में रांची के तेतरटोली निवासी सनी मुंडा और मोरहाबादी एदलहातू के राजेश झा को गिरफ्तार किया गया है। दोनों ने सुजीत गैंग तक सिमकार्ड पहुंचाने की बात भी कबूली।

धनबाद जेल में बंद कई बड़े चेहरे
धनबाद जेल से गैंगस्टर अमन सिंह समेत कई अपराधियों का दूसरी जेलों में ट्रांसफर किया जा चुका है। फिलवक्त धनबाद जेल में पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह हत्याकांड के आरोपी पूर्व विधायक संजीव सिंह, पिंटू सिंह, अभिनव प्रताप सिंह, रिंकू सिंह, भाजपा नेता सतीश सिंह हत्याकांड के आरोपी विकास सिंह व सतीश साव उर्फ गांधी व अमन गैंग के गुर्गे भी बंद हैं।

जेल आईजी ने पत्र भेजकर बंदी सुजीत सिन्हा को गुमला जेल ट्रांसफर करने का आदेश दिया था। सुजीत को गुमला जेल शिफ्ट कर दिया गया। प्रशासनिक कारणों से किसी बंदी का जेल ट्रांसफर संभव है। -अजय कुमार, अधीक्षक, धनबाद मंडल कारा

खबरें और भी हैं...