• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • The Full Story Of Cheating In The Name Of Job In Civil Surgeon's Office Was Handed Over To The Investigation Team In The Form Of Audio Recording

ठगी का मामला:सिविल सर्जन कार्यालय में नौकरी के नाम पर ठगी की पूरी कहानी ऑडियो रिकॉर्डिंग के रूप में जांच टीम को सौंपी गई

धनबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पीड़ित : नौकरी परमानेंट नहीं है, इसके लिए डेढ़ लाख ज्यादा है, पास में उतने पैसे भी नहीं है
  • आरोपी : सब लाइनअप हो गया है, नौकरी परमानेंट ही मानो, 7 माह में पैसा रिकवर हो जाएगा
  • डाटा ऑपरेटर के साथ भुक्तभोगी रंजीत और उसके पिता की बातचीत का ऑडियोे रिकॉर्ड

स्वास्थ्य मंत्री से रिश्तेदारी और अधिकारियाें से पहचान का झांसा देकर नाैकरी लगाने के एवज में ठगी का मामला तूल पकड़ने लगा है। इस मामले में एसएनएमएमसीएच के माइक्राेबायाेलाॅजी विभाग के ट्रू-नेट लैब में डाटा ऑपरेटर पंकज गुप्ता काे हटाने की अनुशंसा के बाद उनकी परिजनाें ने महिला थाना में विभाग के एचओडी डाॅ सुजीत तिवारी के खिलाफ शिकायत की गई है।

इसके विराेध में साेमवार काे माइक्राेबायाेलाॅजी विभाग में कार्यरत कर्मचारियाें ने हड़ताल कर दी। लैब में दाे घंटाें तक काेविड-19, चिकनगुनिया, टीबी कल्चर की जांच नहीं हुई। प्राचार्य डाॅ ज्याेति रंजन के समझाने के बाद कर्मचारी काम पर लाैटे। प्राचार्य ने बताया कि प्रकरण की जांच के लिए कमेटी बनी है। टीम को आरोपी व पीड़ित के बीच की बातचीत की ऑडियो रिकॉर्डिंग भी मिली है।

माइक्रोबायोलॉजी में डाटा ऑपरेटर है आरोपी

कपुरिया निवासी रंजीत कुमार महताे ने डाटा ऑपरेटर पंकज गुप्ता पर नाैकरी के एवज में 1.5 लाख रुपए मांगने व एडवांस में 10 हजार रुपए देेने का आराेप लगाते हुए प्राचार्य और माइक्राेबायाेलाॅजी के एचओडी से लिखित शिकायत की थी। इसके बाद गठित टीम ने पंकज को हटाने की सिफारिश की थी।

  • रंजीत के पिता : हमलाेग किसान हैं...इतना पैसा कहां से लाएंगे?
  • पंकज : हम लाइनअप कराते हैं।
  • पिता : ताे लाइनअप कराओ न।
  • पंकज : मेरे कहने पर डीएसओ सर ने फाेन भी कर दिया सीएस काे। इसके बाद बुलाकर कह दिया कि 1.5 लाख लगेगा। अब बात नहीं कर सकते क्याेंकि अधिकारी बार-बार बात करना पसंद नहीं करता। 20 हजार सैलरी है, सात महीने में रिकवर हाे जाएगा।
  • रंजीत : लेकिन परमानेंट नाैकरी ताे नहीं न हाेगा, एक साल ही काम चलता है, फिर हटा देता है।
  • पंकज : परमानेंट नहीं है, इसलिए ताे 1 से 1.5 लाख में हाे रहा है, परमानेंट रहता ताे पांच से कम में काेई बात ही नहीं हाेता। एनएचएम का एक भी केस बताइए जिसकाे निरस्त किया है। यह एनएचएम है, सेंट्रल से चलता है।

बातचीत से उठे सवाल

  • आराेपी पंकज ने बातचीत के क्रम में स्वास्थ्य विभाग के कई बड़े अधिकारियाें का नाम क्याें लिया?
  • नाैकरी के नाम पर ठगी का रैकेट ताे नहीं चल रहा?
  • अनुशंसा के बाद भी आराेपी काे अब तक क्याें नहीं हटाया गया?

69 पदाें पर होनी है बहाली

एनएचएम धनबाद में 69 पदाें पर नियुक्ति प्रक्रिया चल रही है। आवेदन की अंतिम तिथि 13 नवंबर थी, जबकि बातचीत 17 की है।

इधर, आरोपी की परिजनों ने एचओडी के खिलाफ थाने में की शिकायत, विरोध में माइक्रोबायोलॉजी विभाग में दो घंटे हड़ताल

आराेप बेबुनियाद है। ऑडियाे रिकाॅर्डिंग में उनकी आवाज नहीं है। माइक्राेबायाेलाॅजी विभाग के एचओडी डाॅ सुजीत तिवारी के कहने पर रंजीत उस पर आराेप लगा रहा है। -पंकज गुप्ता, आरोपी​​​​​​​

नाैकरी के नाम पर ठगी की जानकारी मिली है। नियुक्ति प्रक्रिया चल रही है। इससे केस का कोई कनेक्शन नहीं है। ऑडियाे रिकाॅर्डिंग में मेरा व अन्य अधिकारियाें का नाम लेकर ठगी का प्रयास किया गया। -डाॅ श्याम किशाेर कांत, सिविल सर्जन

खबरें और भी हैं...