पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आज सब बेकार:कराेड़ाें से बिछाए गए पेवर ब्लाॅक, केबल बिछाने क लिए खुदाई कर बर्बाद कर दिया

धनबाद16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हीरापुर के हरि मंदिर रोड में बिजली के केबल बिछाने के लिए पेवर ब्लॉक हटाकर वहां गड्‌ढा कर यूं ही छोड़ दिया गया। - Dainik Bhaskar
हीरापुर के हरि मंदिर रोड में बिजली के केबल बिछाने के लिए पेवर ब्लॉक हटाकर वहां गड्‌ढा कर यूं ही छोड़ दिया गया।
  • सड़क या पेवर ब्लॉक तोड़ने पर बनाना हाेगा, इसी शर्त पर निगम से एनओसी, एजेंसी नहीं मान रही

वार्डाें में लोगों को सुविधा उपलब्ध कराने के लिए 14वें वित्त आयोग की राशि से सड़क किनारे दोनों ओर पेबर्स ब्लॉक बिछाये गये थे। एक-एक वार्ड में पेबर्स ब्लॉक बिछाने पर 60 से 70 लाख रुपया खर्च किया गया। किसी वार्ड में छह माह पूर्व तो किसी में एक वर्ष पूर्व पेबर्स ब्लॉक बिछाया गया, लेकिन आज सब बेकार हो गया।

जिन वार्ड में पेबर्स ब्लॉक बिछाया गया, वहां आज इसका नामोनिशान नहीं है। सभी पेबर्स ब्लॉक अंडरग्राउंड केबलिंग की भेंट चढ़ चुका है। अंडरग्राउंड केबल बिछाने का काम सभी वार्डों में चल रहा है। निगम द्वारा पेबर्स ब्लॉक भी सभी वार्डों के चाैक-चाैराहे और मुहल्ले की सड़क किनारे बिछाया गया था।

हर वार्ड में एक जैसी स्थिति

पेबर्स ब्लॉक क्षतिग्रस्त किसी एक वार्ड में नहीं, बल्कि सभी वार्ड में किया गया है। शहर के हीरापुर क्षेत्र में लिंडसे क्लब राेड, हीरापुर हरि मंदिर, अजंतापाड़ा, पार्क मार्केट, जेसी मल्लिक राेड, बैंकमाेड़, पुराना बाजार, मटकुरिया, केंदुआ समेत आसपास के क्षेत्रों में भी यही स्थिति है। इन क्षेत्रों में अंडरग्राउंड केबल बिछाने के लिए एजेंसी ड्रिल मशीन का इस्तेमाल करीत है, पर दिखावे के लिए। ड्रिल मशीन की बजाय मैनुअली खुदाई की जा रही है, जिसका खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रहा है। केबल बिछाने के बाद एजेंसी के लाेग पेबर्स ब्लॉक बिछाने की बजाय मिट्टी को समतल कर उसे छाेड़ दे रहे हैं। बारिश हाेते ही वह मिट्टी बह कर सड़क पर आ जा रही है। जिस कारण लोगों को काफी परेशानी होती है।

पीएमओ तक शिकायत

पेबर्स ब्लॉक तोड़ने जाने की शिकायत वार्ड 26 के पूर्व पार्षद निर्मल कुमार मुखर्जी ने प्रधानमंत्री कार्यालय से लेकर मुख्यमंत्री और ऊर्जा विभाग तक की है। मुख्यमंत्री कार्यालय से निगम को इस मामले की जांच का भी निर्देश दिया गया है, लेकिन इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। पूर्व पार्षद ने बताया कि लोगों के लिए बिजली जरूरी है तो सड़क भी जरूरी है। अंडरग्राउंड केबलिंग का विरोध नहीं है। केबल बिछा कर सड़क को बनाया जाए,ताकि आमजन को परेशानी नहीं हाे।

खबरें और भी हैं...