• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • Where The Pipeline Has Been Laid, There Will Be Free Water Connection, 76 Thousand Houses Will Get Water, So Far 900 Houses Have Reached

मुफ्त में पानी कनेक्शन देने का काम शुरू:जहां बिछ चुकी पाइपलाइन, वहां फ्री में वाटर कनेक्शन शुरू 76 हजार घरों को मिलेगा पानी, अब तक 900 घरों में पहुंचा

धनबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मुफ्त में मीटर भी लगा रहा निगम, पानी के उपयोग के हिसाब से होगी बिलिंग

शहरी क्षेत्र में मुफ्त में पानी कनेक्शन देने का काम निगम ने शुरू कर दिया है। घर में कनेक्शन लेने के लिए काेई कनेक्शन शुल्क नहीं देना है। निगम अब तक एलएंडटी और जुडकाे के माध्यम से 900 घराें में पानी पहुंचा चुका है। राज्य सरकार ने वैसे सभी घराें में सप्लाई पानी पहुंचाने का निर्देश दिया है, जहां जलापूर्ति पाइपलाइन पहुंच चुकी है। जिन इलाके में अभी पाइप नहीं बिछा है, वहां बिछाने का भी निर्देश है।

नगर विकास विभाग द्वारा जारी निर्देश के आलाेक निगम काे घराें में केवल कनेक्शन ही नहीं लगाना है, बल्कि कनेक्शन के साथ घराें में लगने वाले मीटर की व्यवस्था निगम काे ही करनी है। जितना मीटर चलेगा, उसी अनुसार वाटर यूजर चार्ज का भुगतान करना हाेगा। मैथन जलापूर्ति याेजना से अभी जहां सप्लाई हाे रही है, वहां मुफ्त में कनेक्शन नहीं मिलेगा।

मुफ्त वाटर कनेक्शन के लिए हाेल्डिंग नंबर जरूरी

मुफ्त में कनेक्शन लेने के लिए घर का हाेल्डिंग नंबर हाेना जरूर है। हाेल्डिंग नंबर नहीं रहने पर मुफ्त कनेक्शन नहीं मिल पाएगा। कार्यपालक पदाधिकारी माे अनीश ने बताया कि कनेक्शन लगाने का काम एलएंडटी कंपनी द्वारा किया जा रहा है। मैथन-भेलाटांड़ जलापूर्ति याेजना फेज टू का काम भी इसी कंपनी काे मिला है, इसलिए घर-घर कनेक्शन लगाने का काम भी इसी काे दिया गया है।

धनबाद में वार्ड 16 और 17 के अलावा वार्ड 10, 11 व सिंदरी क्षेत्र में दाे-तीन वार्डाें में अभी नए कनेक्शन लगाए गए हैं। निगम क्षेत्र में अभी वाटर कनेक्शन की कुल संख्या 32 हजार है। इनमें मुफ्त में लगे 900 कनेक्शन भी शामिल हैं। निगम के अनुसार 32 हजार में सबसे अधिक कनेक्शन धनबाद अंचल के 14 वार्डाें में ही है।

निगम क्षेत्र के 76 हजार घराें में कनेक्शन पहुंचाने का लक्ष्य है। अभी तक 900 घराें तक पानी पहुंचा दिया गया है। जिनके घर के आसपास पाइप गुजरा है, वे आवेदन कर सकते हैं। हर घर काे पानी पहुंचाने का निर्णय सरकार ने लिया है। -सत्येंद्र कुमार, नगर आयुक्त

खबरें और भी हैं...