पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एकदिवसीय धरना:सरकार को जनता से नहीं है कोई सरोकार: बाबूलाल

तिसरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

तिसरी प्रखण्ड अन्तर्गत लोकाई नयनपुर नक्सल प्रभावित गांव के किसानों के खेत में शुक्रवार को झारखण्ड सरकार की कार्य नीति के विरुद्ध एकदिवसीय धरना कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें बतौर मुख्य अतिथि झारखण्ड के प्रथम मुख्यमंत्री सह धनवार विधायक बाबूलाल मरांडी बतौर मुख्य अतिथि मौजूद थे। ]

उन्होंने आरोप लगाते कहा कि हेमंत सोरेन झारखण्ड की जनता के प्रति कार्य करना छोड़ कर कांग्रेस पार्टी के नेताओं के बुलावे पर दारू, पत्थर, बालू, लोहा, कोयला से किये गये अवैध कमाई का बंटवारा करने दिल्ली गये हैं। क्योंकि लूट के रुपए का शेयर कांग्रेस को नहीं मिलेगी तो हेमंत सोरेन को एक दिन भी मुख्यमंत्री कांग्रेसी नहीं रहने देंगे।

कहा कि पहले तो झरखण्ड सरकार ने किसानों का धान क्रय करने में बिलम्ब किया जो भी किसान पैक्स में धान बिक्री किया उसे अब तक राशि का भुगतान नही हुआ है। अब खेती करने का दिन आ चुका है। किसान खेत में बीज बोने हेतु हल चला रहे हैं। उचित मूल्य पर खाद, बीज उन्हें उपलब्ध नही किया जा रहा है । उन्होंने कहा किसान और गरीब गुरवा के हित मे जनता के सहयोग से प्रखण्ड , जिला और राज्य तक घेरा जाएगा। हेमन्त सोरेन की सरकार में दफ्तरों में भी बाबू लोग बिना रुपए लिए कोई काम नहीं करते हैं।

खबरें और भी हैं...