कुकृत्य काे अंजाम:तिसरी में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा काे किया खंडित, देशद्राेह का केस करने की मांग

तिसरी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महात्मा गांधी की प्रतिमा तोड़े जाने का विरोध करते भाकपा माले कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
महात्मा गांधी की प्रतिमा तोड़े जाने का विरोध करते भाकपा माले कार्यकर्ता।

गिरिडीह जिले के तिसरी प्रखंड मुख्यालय स्थित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा काे असामाजिक तत्वाें ने शुक्रवार की देर रात काे खंडित कर दिया है। जिसमें बापू की प्रतिमा काे दाे टुकडे कर दिया है। जिस तरह प्रतिमा काे खंडित किया गया है, उससे लगता है कि असामाजिक तत्वाें ने जान बूझ कर शांति काे भड़काने के लिए इस कुकृत्य काे अंजाम दिया है।

शनिवार सुबह में इसकी जानकारी मिलते ही स्थानीय लाेगाें में भारी आक्राेश है। तिसरी मुख्यालय के गावां गिरिडीह मुख्य मार्ग के किनारे थाना परिसर और ब्लॉक परिसर से 50 मीटर दूरी पर वर्ष 1998-99 में धनवार विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक गुरु सहाय महतो द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा को स्थापित किया गया था। जिसमें बापू की प्रतिमा स्थापित करने के साथ-साथ चाराें ओर रेलिंग व चबूतरा भी बनाई गयी थी। इसके बाद इस प्रतिमा व स्थल का कई बार मरम्मत व रंग-राेगन भी किया जाता रहा है। इसी बीच शुक्रवार रात्रि में किसी अज्ञात शरारती तत्वाें द्वारा इसे खंडित कर दिया गया है।

साेशल मीडिया में सूचना हुई वायरल
शनिवार सुबह हाेते ही साेशल मीडिया में खंडित प्रतिमा की फाेटाे के साथ मैसेज साेशल मीडिया में वायरल हाे गयी। इसी बीच राष्ट्रीय यादव सेना तिसरी के प्रखण्ड अध्यक्ष लालू यादव ने मामले काे गंभीरता से लिया और ऐसे असामाजिक तत्वाें काे चिह्नित कर देशद्राेह का मुकदमा दर्ज करने की मांग काे लेकर तिसरी थाना प्रभारी को आवेदन साैंपा है। वहीं सूचना मिलते ही भाकपा माले के पूर्व विधायक राजकुमार यादव खंडित प्रतिमा स्थल पर पहुंचे। इससे पहले कुछ लोगों ने फेवीक्वीक से खंडित प्रतिमा को चिपका दिया था। लेकिन ज्योंही पुन: स्पर्श किया बापू जी का सर फिर नीचे गिर गया। जिस पर विधायक ने आपत्ति जताया।

खबरें और भी हैं...