पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

समाजसेवी मनवा जंगल:झारखंड-बिहार बॉर्डर पर मिले दाे नरकंकाल का डीएनए टेस्ट के लिए भेजेगी तिसरी पुलिस

तिसरी13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

झारखंड-बिहार के सीमावर्ती क्षेत्र में दाे नर कंकाल पुलिस ने बरामद किया है। दाेनाें नरकंकाल काे पंदनाटांड़ के उन दाे भाइयाें के हाेने की अाशंका जताइ जा रही है जाे पिछले 22 जून से गायब हैं। लेकिन फिलहाल पुलिस प्रशासन इसे स्पष्ट नहीं कर पा रही है, और डीएनए टेस्ट कराने की तैयारी की जा रही है।

दाेनाें राज्याें की पुलिस फिलहाल मामले की पड़ताल में जुटी है। नरकंकाल बिहार के जमुई जिला के खैरा थाना अंतर्गत महुलियाटांड़ मनवा पहाड़ी व झारखण्ड प्रदेश के थानसिंगडीह सीमावर्ती क्षेत्र स्थित जंगल में मिला है। नरकंकाल के समीप झाड़ी से गायब तिसरी पन्दनाटांड़ निवासी दो भाई अंशु बर्णवाल और चन्दन बर्णवाल की मोटरसाइकिल भी बरामद की गयी है।

जिससे आशंका काे बल मिलता है और लोग संशय में हैं कि दोनों नर कंकाल दोनों भाइयों का ही तो नहीं है। पुलिस फिलहाल ये भी मान कर चल रही है कि हाे सकता है कि ध्यान भटकाने के लिए साजिश के तहत बाइक के साथ दाे नरकंकाल काे कहीं से लाकर रख दिया हाे। इसलिए डीएनए टेस्ट से ही यह स्पष्ट हाे सकता है कि बरामद नरकंकाल अंशु व चंदन का ही है या फिर किसी और का है। सूचना पर लापता अंशु और चन्दन के तीसरा भाई कुंदन बर्णवाल, मामा संजय बर्णवाल, तिसरी मुख्यालय के समाजसेवी मनवा जंगल पहुंचे। वहीं बिहार के खैरा थाना पुलिस और झारखण्ड के तिसरी पुलिस घटना स्थल पहुंच कर संयुक्त रूप से मामले की जांच कर रही है।

डीएनए जांच के बाद हाेगा स्पष्ट होगा: एसडीपीओ
इस संबंध में खोरीमहुआ अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मुकेश कुमार महतो ने कहा कि बिहार प्रदेश के खैरा थाना क्षेत्र के मनवा पहाड़ी जंगल में दो नर कंकाल और मोटरसाइकिल मिली है। पुलिस घटना स्थल पर पहुंच कर जांच पड़ताल कर रही है। कंकाल जिस प्रकार बिखरा पड़ा हुआ है जांच से पूर्व कुछ भी कहना मुश्किल है। संभवतः दोनों लापता भाई का कंकाल हो भी सकता है और नहीं भी।

खबरें और भी हैं...