पैदल पार करना भी हो जाता है मुश्किल:ऑटो चालकों की मनमानी से कांडी बाजार में रोज सड़क जाम, लोग परेशान

कांडी17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कांडी बाजार स्थित मेन रोड में ऑटो चालकों की मनमानी का खामियाजा प्रतिदिन आम लोगों को उठाना पड़ता है। इनमें राहगीरों के साथ-साथ विद्यार्थी, कार्यालय कर्मी, बाजार के खरीदार आदि शामिल हैं। मालूम हो कि बाजार, बस स्टैंड, प्रखंड कार्यालय, अंचल कार्यालय, अस्पताल, स्कूल, कालेज, बीआरसी, थाना, बैंक, एफसीआई गोदाम, जेएसएलपीएस से होकर आने जाने वाले हजारों की संख्या में लोगों को रोज रोज के सड़क जाम से भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यह भी बात सही है कि गांव गांव से चलने वाला ऑटो रिक्शा ही आने जाने में लोगों को सहूलियत प्रदान करता है। पर लोगों को सुविधा प्रदान करने वाला यही ऑटो रिक्शा रोड पर जहां तहां खड़ा कर देने से प्रतिदिन का सिरदर्द बना हुआ है।

ऑटो चालकों की मनमानी इस कदर बढ़ गई है कि जहां इच्छा होती है वे वहीं आटो खड़ा कर देते हैं। जिस कारण मुख्य सड़क पर जाम लग जाता है। घंटो की मशक्कत के बाद ही लोगों को जाम से निजात मिल पाता है। मुख्य सड़क पर झारखंड राज्य वनांचल ग्रामीण बैंक से लेकर कॉलेज रोड मोड़ से भारतीय स्टेट बैंक के पास, नंदू पान दुकान से रत्नेश गुप्ता की दवा दुकान से आगे व कर्पूरी चौक से धोबी मुहल्ला तक प्रतिदिन राहगीरों को जाम का सामना करना पड़ता है। कांडी में शुक्रवार को बड़ा साप्ताहिक बाजार लगता है।

इस दिन और भी भयंकर जाम का सामना करना पड़ता है। कांडी मुख्य सड़क पर ऑटो चालकों की मनमानी से कब निजात मिलेगा यह चिंता का विषय बन गया है। क्योंकि तत्कालीन प्रखंड विकास पदाधिकारी जोहन टुडू व थाना प्रभारी नीतीश कुमार ने आटो को सड़क पर जहां तहां खड़ा कर सवारी चढ़ाने उतारने पर सख्त पाबंदी लगाई थी। उन्होंने चारों दिशाओं में बाजार से हटकर टेंपो स्टैंड कायम कर दिया था। लेकिन इस आदेश का आटोचालकों ने अनुपालन नहीं किया।

खबरें और भी हैं...