• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Garhwa
  • 2 Thousand People Surrounded The Police Station In Protest Against Cow Slaughter, Broke The Shop Of The Accused, Police Arrested 7 Including Two Women

खरौंधी की चंदनी में गोकशी की घटना, बाजार बंद कराया:गोकशी के विरोध में 2 हजार लोगों ने थाना घेरा, आरोपी की दुकान तोड़ी, पुलिस ने दो महिलाओं समेत 7 को पकड़ा

खरौंधी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लोगों को समझाती पुलिस। - Dainik Bhaskar
लोगों को समझाती पुलिस।

थाना क्षेत्र के चंदनी गांव के डेरवा टोला में गोकशी की घटना से लोगों में आक्रोश है। गोकशी के आरोपी के खरौंधी बाजार स्थित मुर्गी दुकान में आक्रोशित लोगों ने जमकर तोड़फोड़ की है। आरोपी के दुकान को तहस-नहस कर दिया है। शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस ने फ्लैग मार्च किया। पूरी घटना को लेकर पुलिस अधिकारियों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया है और स्थिति को पूरी तरह से नियंत्रण में बताया है।

घटना के बारे एक व्यक्ति ने सामने आकर पूरी घटना की जानकारी दी है। उसने बताया इसके पहले भी आरोपियों ने ऐसा काम किया है। जिसका विरोध भी किया गया, लेकिन आरोपियों ने कहा था कि वे मवेशी काटेंगे और उसका मांस खाएंगे। उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकेगा। गोकशी सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने 5 लोगों को हिरासत में लिया है।

घटना शनिवार की रात्रि 10 बजे की है। पुलिस ने इस घटना की पुष्टि की है। जानकारी के अनुसार बीती रात चंदनी स्थित खरौंधी थाना से महज 500 मीटर दूर चंदनी के डेरवा टोला में गोवंश के काटे जाने की सूचना ग्रामीणों से मिलने के आलोक में थाना प्रभारी अभय कुमार ने तत्परता दिखाते हुए छापेमारी कर कटे गोवंश के अवशेष को जब्त कर लिया है। पांच लोगों को हिरासत में ले लिया। हालांकि घटना में संलिप्त कतिपय लोग वहां से फरार हो गए।

पुलिस ने प्रेस कांफ्रेंस कर दी जानकारी- स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में, अफवाह न फैलाएं

घटना के विरोध में करीब दो हजार की संख्या में हिंदू समाज के लोगों की भीड़ थाना के पास लग गई। पुलिस पकड़े गए लोगों मनाैवर अंसारी, अजमेर अंसारी, नसरूम अंसारी, मुख्तार अंसारी व एक अन्य से पूछताछ कर रही है। फरार लोगों को पकड़ने के लिए पुलिस छापेमारी जारी है। वहीं पुलिस ने गोकशी में संलिप्त मनाैवर अंसारी के घर से दो महिला को भी गिरफ्तार किया है। इधर गोकशी की घटना पूरे क्षेत्र में आग की तरह फैल गई। विरोध में हिंदू समाज के लोग खरौंधी थाना पहुंचने लगे।मौके पर घटना से नाराज हिंदू समाज के लोगों ने रविवार की सुबह खरौंधी थाना का घेराव किया।

इससे पूर्व रविवार की सुबह बजरंग दल, आरएसएस, शिवसेना, भाजपा, स्थानीय जनप्रतिनिधि, अन्य राजनीतिक पार्टियों के लगभग डेढ़ हजार की संख्या में लोग/ कार्यकर्ता/ समर्थक व स्थानीय ग्रामीण खरौंधी बाजार में इकट्ठा हुए। आक्रोशित लोगों ने इस घटना के विरोध में खरौंधी बाजार के सभी दुकानों को बंद करा दिया। जुलूस की शक्ल में आक्रोशित लोग जय श्री राम, हर हर महादेव, गौ हत्या बंद करो आदि नारे लगाते हुए थाना पर पहुंचे और थाना का घेराव किया।

थाना के समक्ष केतार-खरौंधी मुख्य पथ पर ही बैठ गए। सूचना पर श्री बंशीधर नगर के एसडीपीओ प्रमोद कुमार केशरी, पुलिस इंस्पेक्टर राजेश कुमार, भवनाथपुर पुलिस इंस्पेक्टर चंदन कुमार सिंह खरौंधी थाना पहुंचे थे।

थाना घेराव कर रहे ग्रामीणों को एसडीपीओ प्रमोद कुमार केशरी ने समझाते हुए स्थिति को संभाला। मौके पर घटना के विरुद्ध आक्रोश व्यक्त करते हुए विहिप अध्यक्ष रामानंद मेहता, विधायक प्रतिनिधि उपेंद्र दास, 20 सूत्री अध्यक्ष राजेश कुमार रजक, भाजपा मंडल अध्यक्ष संध्याकर विश्वकर्मा आदि ने बताया कि ये सभी आरोपी पूर्व में ही इस तरह की घटना को कई बार अंजाम दे चुके हैं। ये सभी गाय के प्रतिबंधित मांस को बाहर ले जाकर सप्लाई करते थे। जिसकी भनक हमलोगों को था।

शनिवार की देर शाम इन लोगों को गाय के बछड़े के साथ देखा था। थाना घेराव में विहिप अध्यक्ष रामानंद मेहता, प्रमुख आभा रानी, विधायक प्रतिनिधि उपेंद्र दास, जितेंद्र प्रसाद यादव, भाजपा मंडल अध्यक्ष संध्याकर विश्वकर्मा, उपप्रमुख देवदत्त प्रसाद आर्य, पूर्व प्रमुख गोरखनाथ चौधरी, पूर्व अरंगी मुखिया शिव कुमार यादव, भाजपा नेता बसंत यादव, चंदनी मुखिया रामगहन मेहता, बृंद कुमार सिंह सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

क्या कहते हैं एसडीपीओ
श्रीवंशीधर एसडीपीओ प्रमोद कुमार केशरी ने बताया थाना में इस घटना में शामिल 15 लोगों के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज कराया गया है। सूचना मिलते ही पुलिस ने रात्रि में ही पांच आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। सुबह में दो महिला को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है जल्द ही उन्हें भी पुलिस गिरफ्तार कर लेगी। इधर घटना से क्षेत्र में तनाव की स्थिति है किन्तु पूरी तरह से नियंत्रण में है।

माहौल खराब अथवा और गरम न हो इस निमित पुलिस द्वारा सुरक्षा का चाक चौबंद व्यवस्था किया गया है। पुलिस स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए पुरी तरह से मुस्तैद है। शांति व्यवस्था बनी रहे इसके लिए पुलिस हर प्रयास कर रही है। इसके लिए पुलिस द्वारा पुरे क्षेत्र में पुलिस गश्त बढ़ा दी गई है। साथ ही स्थानीय बुद्धिजीवियों/ नागरिकों से विधि व्यवस्था को सामान्य करने में सहयोग की अपील की गई है।

खबरें और भी हैं...