राज्य में 22 जिलों के 226 प्रखंडों को सूखाग्रस्त घोषित:मंत्री के प्रयास से जिला के प्रखंडों को किया गया सूखाग्रस्त घोषित : झामुमो

गढ़वा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राज्य सरकार के द्वारा राज्य में न्यूनतम वर्षापात व अन्य फसल आच्छादन के फलस्वरूप राज्य में 22 जिलों के 226 प्रखंडों को सूखाग्रस्त घोषित किए जाने पर झामुमो के जिला सचिव ने राज्य सरकार के प्रति आभार जताया है। जिला सचिव ने कहा कि गढ़वा जिला को सूखाग्रस्त घोषित करने के लिए पहला झामुमो कार्यकर्ताओं ने दिया था।

मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर के प्रयास से जिला के सभी 20 प्रखंडों को सूखाग्रस्त घोषित किया गया है। उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और मंत्री मिथिलेश ठाकुर के प्रति आभार जताया है। समान्य किसान, लघु किसान, बटाईदार किसान अथवा भूमिहीन किसान सभी निम्न परिवारों को राहत देने के लिए 3500 रुपए की राशि दी जाएगी।

सुखाड़ से प्रभावित वैसे कृषक जो जीविकोपार्जन के लिए मुख्य कृषि पर निर्भर हैं व इनके द्वारा वर्ष 2022 की खरीफ फसल की बुआई का कार्य करते हैं। सुखाड़ से प्रभावित किसान जो जीविकोपार्जन के लिए पूरी तरह से कृषि पर निर्भर रहते हैं और इनकी फसल 35 प्रतिशत से अधिक क्षति हुई है और भूमिहीन किसान, मजदूर जिनकी किसी आधारित आजीविका का साधन सुखाड़ से प्रभावित हुआ है।

खबरें और भी हैं...