सड़क दुर्घटना:तेज रफ्तार पिकअप वैन ने बाइक को मारी टक्कर दो की मौत, लोगों ने तीन घंटा तक जाम की सड़क

गढ़वाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
घटना के बाद सड़क जाम करते लोग। - Dainik Bhaskar
घटना के बाद सड़क जाम करते लोग।

राष्ट्रीय राजमार्ग 343 गढ़वा-अंबिकापुर मार्ग पर रंका थाना क्षेत्र के भौंरी गांव के समीप पिकअप व मोटरसाइकिल की टक्कर में मोटरसाइकिल पर सवार दो लोगों की मौत हो गई। घटना बुधवार की है। मृतकों में विनोद राम 53 वर्ष पिता स्व.दुखी राम तथा दुलाल राम 45 वर्ष पिता कैलाश राम शामिल हैं। दोनों रंका थाना क्षेत्र के भौंरी गांव के रहनेवाले थे।

सड़क दुर्घटना में दो लोगों की मौत के बाद आक्रोशित लोगों ने भौंरी गांव के समीप एनएच 343 को करीब तीन घंटे तक जाम कर दिया। जाम की सूचना मिलते ही घटनास्थल पर प्रशासन की ओर से अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सुदर्शन कुमार आस्तिक थाना प्रभारी रामेश्वर उपाध्याय लोगों को समझा-बुझाकर जाम को हटाने के लिए पहल कर रहे हैं।

जानकारी के अनुसार विनोद राम व दुलाल राम छत्तीसगढ़ के रामानुजगंज स्थित सामंजस्य होटल में भोजन बनाने वाले कारीगर के रुप में काम करते थे। दोनों अपने घर से एक ही मोटरसाइकिल से बुधवार की सुबह में रामानुजगंज जाने के लिए निकले थे। इस दौरान सामने से आ रहे तेज रफ्तार पिकअप गाड़ी ने इनकी मोटरसाइकिल को अपनी चपेट में ले लिया।

इस घटना में विनोद राम व दुलाल राम गंभीर रुप से घायल हो गए। घटना के बाद स्वजनों ने दोनों घायलों को रामानुजगंज स्थित सरकारी अस्पताल में ले जाकर भर्ती कराया। प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सक ने दोनों घायलों की गंभीर स्थिति को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए हाइयर सेंटर के लिए रेफर कर दिया। इसके पश्चात दोनों को सदर अस्पताल गढ़वा में लाया जा रहा था।

इस दौरान विनोद राम की रास्ते में ही मौत हो गई। सदर अस्पताल में लाए जाने पर चिकित्सक ने परीक्षण कर विनोद राम को मृत घोषित कर दिया। जबकि घायल दुलाल राम को रिम्स रांची ले जाने के दौरान चंदवा में ही उसकी मौत हो गई। इसकी सूचना मिलने पर आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क जाम कर दिया। शाम साढ़े पांच बजे समाचार भेजे जाने तक सड़क से जाम नहीं हटाया जा सका था। दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लगी हुई थी।

इधर, गढ़वा थाना पुलिस ने विनोद राम के शव को अपने कब्जे में लेकर सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम कराकर मृतक के परिजन को सौंप दिया। इधर मृत दुलारी राम कसो पुलिस ने अपने कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है। परिजनों का रो रो कर बुरा हाल बना है।

खबरें और भी हैं...