बैठक का आयोजन:डिस्पैच सेंटर, क्लस्टर व मतदान केंद्र पर सभी मूलभूत सुविधाएं चाक-चौबंद रखें अिधकारी

गढ़वाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तहत जिले में होने वाले तीसरे और चौथे चरण के पंचायत चुनाव के सफल संचालन लेकर शुक्रवार को उपायुक्त रमेश घोलप की अध्यक्षता में बैठक हुई। जहां उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भी जिले के पदाधिकारियों से जुड़े।

वहीं जिला स्तर से विभिन्न कोषांगों के नोडल व वरीय पदाधिकारियों के साथ समाहरणालय के सभागार में बैठक की। उपायुक्त ने कहा कि जिले में प्रथम चरण का चुनाव सफलतापूर्वक संपन्न कराया जा चुका है। तीसरे और चौथे चरण के चुनाव को लेकर भी सभी तैयारियां पूरी हो चुकी है।

प्रथम चरण के चुनाव में सामने आई परेशानियों से सीख लेते हुए शांतिपूर्ण ढंग से तीसरे व चौथे चरण के चुनाव को संपन्न कराने को लेकर पदाधिकारी गंभीरता से कार्य करें। उन्होंने विभिन्न कोषांगों के नोडल पदाधिकारियों से उनकी तैयारियों के विषय में भी जायजा लिया।

उन्होंने प्रशिक्षण कोषांग के नोडल पदाधिकारी को सभी छुटे हुए मतदान कर्मियों का प्रशिक्षण जल्द से जल्द पूर्ण कराते हुए अनुपस्थित व्यक्तियों की सूची कार्मिक कोषांग को उपलब्ध कराने की बात कही।

उपायुक्त ने सदर एसडीओ व बंशीधर नगर के एसडीओ को डिस्पैच सेंटर पर प्रशिक्षण कोषांग, सामग्री कोषांग और कार्मिक कोषांग का काउंटर बनाते हुए उनके नोडल के साथ दो कर्मी प्रतिनियुक्त करने का निर्देश दिया।

ताकि बिना किसी परेशानी के सफलतापूर्वक पोलिंग पार्टी का डिस्पैच किया जा सके। उन्होंने संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारियों को भी क्लस्टर पर सभी मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराने, मतदान केंद्रों पर भी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराते हुए वहां की साफ-सफाई सुनिश्चित करवाने का निर्देश दिया।

उपायुक्त ने दोनों अनुमंडल पदाधिकारियों को मतगणना के दिन मतगणना केंद्र पर भी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए भी निर्देश दिया है। वहीं बीडीओ व सीओ से भी चुनाव की तैयारियों, आदर्श आचार संहिता का अनुपालन सहित अन्य व्यवस्था के विषय में जानकारी ली और उन्हें कई महत्वपूर्ण निर्देश भी दिए।

विदित हो कि जिले में 24 मई को तृतीय चरण में बंशीधर अनुमंडल में और 27 मई को चतुर्थ चरण में गढ़वा अनुमंडल में मतदान संपन्न कराया जाएगा। बैठक में उप विकास आयुक्त राजेश कुमार राय, अपर समाहर्ता पंकज कुमार सिंह, रंका एसडीओ राम नारायण सिंह, जिला पंचायती राज पदाधिकारी दिनेश सुरीन, विभिन्न कोषांगों के नोडल पदाधिकारी व वरीय पदाधिकारी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...