एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन:तंबाकू सेवन से किशोरों में बढ़ रही बीमारी सामूहिक प्रयास से रोकें: डॉ. कौशल

गढ़वा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सदर अस्पताल के सभागार में सोमवार को राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम को लेकर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें जिले के उच्च विद्यालयों के शिक्षकों ने भाग लिया। मौके पर एनटीसीए के जिला नोडल पदाधिकारी डा.कौशल लाल सहगल भी उपस्थित थे। जबकि प्रशिक्षक के रुप में साइकोलाजिस्ट संजीव शरण व सोशल वर्कर विनय कुमार शर्मा उपस्थित थे।

डा.कौशल लाल सहगल ने कहा कि तंबाकू एवं उसके विभिन्न उत्पादों के सेवन से आर्थिक व शारीरिक नुकसान हो रहा है। इससे कई तरह की बीमारियां हो रही हैं। तंबाकू उत्पादों के सेवन से विभिन्न प्रकार के कैंसर से लोगों की असमय मौत हो रही है। उन्होंने कहा कि किशोरों में भी तंबाकू उत्पादों की लत लग रही है।

इसे सामूहिक प्रयास से ही रोका जा सकता है। कार्यशाला में सोशल वर्कर विनय कुमार शर्मा ने कहा कि सभी शैक्षणिक संस्थानों को तंबाकू मुक्त घोषित किया गया है। शैक्षणिक संस्थान के एक सौ गज के दायरे में कोई भी तंबाकू या तंबाकू उत्पादों का दुकान नहीं होगा। उन्होंने कहा कि यदि किसी शिक्षण संस्थान के एक सौ गज के दायरे में तंबाकू उत्पादों की बिक्री हो रही है तो इसके विरुद्ध करवाई के लिए संबंधित थाना प्रभारी को इसकी सूचना देना है।

जबकि किसी भी सरकारी कार्यालय में तंबाकू के किसी भी उत्पाद का इस्तेमाल नहीं करना है। सरकारी कार्यालयों में तंबाकू उत्पादों के प्रयोग करते पकड़े जाने पर 200 रुपये का आर्थिक दंड वसूलने का प्रावधान है। इसे संबंधित कार्यालय के अधिकारी द्वारा वसूल किया जाना है।

कार्यशाला में साइकोलाजिस्ट संजीव शरण ने तंबाकू के लत से बचने व इसके आदत को छोड़ने के बारे में विस्तार से जानकारी दी। मौके पर शिक्षक सुशील कुमार, रेयाज अहमद, मनभावन यादव, पुष्पा कुमारी, धर्मेंद्र राय, आसिफ हुसैन, सुभाष कुमार शर्मा समेत कई लोग उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...