• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Garhwa
  • The Construction Of Garbage Dumping Yard Has Been Stalled In Garhwa For 8 Months, Now The Garbage Is Being Dumped On The Banks Of The Danaro River, To The People

डंपिंग यार्ड निर्माण में मानकों का पालन नहीं:गढ़वा में 8 महीना से रुका है कचरा डंपिंग यार्ड का निर्माण, अभी दानरो नदी के किनारे डंप किया जा रहा है कचरा, लोगों को

गढ़वाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कचरा रिसाइक्लिंग डंपिंग यार्ड के अभाव में दानरो नदी के किनारे डंप  किया गया कचरा। - Dainik Bhaskar
कचरा रिसाइक्लिंग डंपिंग यार्ड के अभाव में दानरो नदी के किनारे डंप किया गया कचरा।

हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल किए जाने के कारण पिछले आठ माह से गढ़वा प्रखण्ड के सुखबाना गांव में बन रहे कचरा डंपिंग यार्ड निर्माण कार्य पर ग्रहण लगा हुआ है। जानकारी के मुताबिक पिछले सितंबर 2021 में ठोस कचरा प्रबंधन के तहत बन रहे डंपिंग यार्ड के निर्माण को लेकर किसी व्यक्ति के द्वारा हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल किया गया था।

जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस की अदालत ने रोक लगाते हुए सरकार को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। याचिका में कहा गया था कि डंपिंग यार्ड के निर्माण में उचित स्थल का चयन नहीं किया गया है। वहीं निर्धारित मानकों का पालन नहीं किया जा रहा है। राज्य पर्यावरण प्रभाव आकलन प्राधिकरण (सिया) के नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है।

अदालत से डंपिंग यार्ड का निर्माण नियमों के तहत और सभी मानकों के अनुसार करने का आग्रह किया गया है। विदित हो कि गढ़वा प्रखण्ड के सुखबाना गांव में नगर परिषद के द्वारा 105 करोड़ 24 लाख 69 हजार रुपए की लागत से कचरा डंपिंग यार्ड का निर्माण कराया जा रहा है।

कचरे को रिसाइक्लिंग कर खाद, अंडा का ट्रे बनाने की योजना

कचरा रिसाइक्लिंग डंपिंग यार्ड का निर्माण कार्य पूर्ण नहीं होने के कारण नप क्षेत्र के कचरा को दानरो नदी के किनारे बने रिंग रोड के किनारे डंप किया जाता है। ऐसे में उस रास्ते से गुजरने वाले लोगों को कचरा से निकलने वाली दुर्गंध का सामना करना पड़ता है।

वहीं डंपिंग यार्ड में कचरा को रिसाइक्लिंग कर खाद, अंडा का ट्रे व थर्माकोल आदि बनाया जाएगा। डंपिंग यार्ड निर्माण को लेकर चिन्हित दस एकड़ भूमि में चहारदीवारी का निर्माण किया जा चुका है। अगर काम नहीं रुकता तो काम काफी आगे बढ़ जाता। कोर्ट से रोक हटने के बाद काम में तेजी आएगी।

नप अध्यक्ष बोली- नप की ओर से हाइकोर्ट में जवाब दिया जा चुका है

नगर परिषद अध्यक्ष पिंकी केशरी ने कहा कि नगर परिषद गढ़वा पिछले वर्षों सालों से कचरा रीसाइकलिंग यार्ड बनाने को लेकर प्रयासरत है। इस क्रम में नगर परिषद गढ़वा के द्वारा सर्वप्रथम गढ़वा प्रखण्ड के परिहारा में गांव कचरा डंपिंग यार्ड बनाने का प्रयास किया गया, लेकिन कुछ कारणों से वहां कचरा डंपिंग यार्ड नहीं बन पाया।

उसके बाद केरवा सुखबाना में कचरा रीसाइकलिंग यार्ड सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट का कार्य युद्ध स्तर पर चल रही थीं। लेकिन कुछ लोगों द्वारा हाई कोर्ट में याचिका दाखिल कर निर्माण कार्य रोकने की कोशिश की गई है। हाईकोर्ट में नगर परिषद की ओर से जवाब दिया जा चुका है। बहुत जल्द कचरा डंपिंग यार्ड निर्माण कार्य पुनः शुरू कर दिया जाएगा। कचरा डंपिंग यार्ड का पूरी बाउंड्री हो चुकी है। गेट लग चुका है।

खबरें और भी हैं...