• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Giridih
  • Wife Had Committed Murder Along With Her 3 Friends; After Four Days Of Intense Interrogation, The Muffasil Police Sent Him To Jail

ईश्वर हत्याकांड का खुलासा:पत्नी ने ही अपने 3 दोस्तों के साथ मिल की थी हत्या; चार दिनों से गहन पूछताछ के बाद मुफ्फसिल पुलिस ने भेजा जेल

गिरिडीह2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
घटनास्थल का मुआयना करते पुलिए पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
घटनास्थल का मुआयना करते पुलिए पदाधिकारी।

मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के गादी गवाराें गांव के चंदली टाेला निवासी 45 वर्षीय ईश्वर हेब्राेम की हत्या खुद उसकी पत्नी ने अपने तीन दाेस्ताें के साथ मिलकर की थी। चार दिनों की गहन छानबीन ,पूछताछ व जांच पड़ताल के बाद खुलासा करने में सफल रही। इसके साथ ही पति की हत्या कराने के जुर्म में पुलिस ने आरोपी पत्नी ढेना सोरेन को शुक्रवार को जेल भेज दिया है। हत्या का मुख्य कारण रहा कि पत्नी की हरकतों से ईश्वर काफी नाराज चल रहा था और उसने इसकी शिकायत पुलिस में करने की भी धमकी दी थी। जो उसकी पत्नी व उसके तीनों साथियों को नागवार गुजर रहा था। खासकर बहनोई धर्मेंद्र को इससे ज्यादा तकलीफ थी।

लिहाजा ढेना ने धर्मेंद्र से मिलकर रणनीति बनाई और उसमें दो पुराने साथियों का साथ लिया और 20 जून की देर रात ईश्वर के साथ मिलकर सभी मुर्गा व चावल खाया। शराब भी जमकर सेवन किया। इसके बाद सभी ने मिलकर ईश्वर की पीट-पीटकर व धारदार हथियार से हत्या कर दी। बाद में इसे एक्सीडेंटल मौत का रूप देने के लिए बीच सड़क पर शव को रख दिया। जहां अहले सुबह सूचना मिलते ही पुलिस ने शव को बरामद किया और पोस्टमार्टम कराया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में स्पष्ट हो गया कि ईश्वर हेम्ब्रम की मौत एक्सीडेंटल केस नहीं है, बल्कि उसकी हत्या हुई है।

फिर संदेह के आधार पर पत्नी ढेना सोरेन को पुलिस हिरासत में लिया गया। जहां पहले तो वह अनजान बनी रही। लेकिन बाद में उसने सारी सच्चाई पुलिस के सामने रख दिया, जिसमें मुख्य हत्यारा के तौर पर धर्मेंद्र हेम्ब्रम सहित तीन लोगों का नाम सामने आया है। जिसे गिरफ्तार करने की कार्रवाई में पुलिस जुट गयी है।

21 जून काे सड़क पर मिला था ईश्वर हेंब्रोम का शव
गौरतलब है कि मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के गादी गवाराे गांव के चंदली टाेला निवासी 45 वर्षीय ईश्वर हेब्राेम काे अज्ञात लाेगाेंे ने धारदार हथियार से 20 जून 2022 की रात हत्या करके गांव के सड़क पर शव को फेंक दिया था। 21 जून सुबह जब गादी गवाराें गांव के ग्रामीण शाैच करने के लिए राेड के किनारे गए ताे खून से लथपथ मृत पड़ा शव ईश्वर हेेंब्राेम काे देखा। इस घटना की सूचना लाेगाें ने गांव वालाेें काे दी।

गांव वालों की सूचना पर मुफ्फसिल थाना प्रभारी विनय कुमार राम पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और मामले की जांच करते हुए मृतक की पत्नी ढेना साेरेन काे उसके घर से हिरासत में ले लिया। जांच में सबसे अहम बात ये पता चली कि मृतक की पत्नी ढेना सोरेन का वह चौथा पति था। तीन शादी वह पहले ही कर चुकी थी। चौथी शादी उसने ईश्वर हेम्ब्रम से किया था। जब ईश्वर को इसकी जानकारी हुई तो उसने इस पर आपत्ति जताना शुरू किया।

एसडीपीओ ने कहा- अवैध संबंध में पत्नी ने कराई पति की हत्या

एसडीपीओ अनिल कुमार सिंह ने बताया कि ईश्वर हेब्राेम की दूसरी पत्नी ढेना साेरेन पूर्व में तीन शादी कर चुकी थी। ढेना साेरेन का ईश्वर हेंब्राेम से चाैथी शादी थी। ढेना साेरेन की गलत संबंध दूसरे लाेगाें से हाेने के कारण घर में पति पत्नी के बीच विवाद हमेशा होता रहता था। इसी बीच ढेना साेरेन ने अपने पति ईश्वर को रास्ते से हटाने का फैसला लिया। इस दौरान उसने अपने मायके दुर्गा पहाड़ी जाे मुफ्फसिल थाना क्षेत्र में है। मायके से धर्मेंद्र साेरेन सहित तीन अपराधियाें काे बुलाकर पति की हत्या करवा दी। पुलिस हत्यारे काे गिरफ्तार करने के लिए लगातार छापामारी कर रही है।

खबरें और भी हैं...