पंचायत चुनाव रिजल्ट:पूर्व जिप अध्यक्ष सतवंती देवी ने लगाई हैट्रिक सरस्वती, मंती, तेतरु और पवन भी जीते चुनाव

गुमलाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मतगणना कंेद्र के बाहर विजय प्रत्याशी के साथ जश्न मनाते समर्थक। - Dainik Bhaskar
मतगणना कंेद्र के बाहर विजय प्रत्याशी के साथ जश्न मनाते समर्थक।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के अंतर्गत दूसरे चरण का मतगणना कार्य रविवार को देर रात तक जारी रही। कार्तिक उरांव कॉलेज स्थित मतगणना केन्द्र में गुमला और घाघरा के लिए दो-दो और बिशुनपुर के लिए एक केन्द्र बनाए गए थे। गुमला उत्तरी और मध्य, घाघरा और बिशुनपुर प्रखंड के उम्मीदवार और उनके एजेंट सुबह आठ बजे से ही मतदान केन्द्र पहुंच गए थे।

उपायुक्त सुशांत गौरव ने सभी केन्द्रों का निरीक्षण किया। सुरक्षा का व्यापक प्रबंध किया गया था। जिला परिषद के पूर्व अध्यक्ष सतवंती देवी ने घाघरा पश्चिमी सीट से लगातार तीसरी बार चुनाव जीती हैं। सतवंती देवी 12041 मत हासिल कर अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी शीला कुजूर को 2975 मतों के अंतर से पराजित किया।

शीला कुजूर को कुल 9066 मत प्राप्त हुए। सतवंती देवी प्रथम चक्र से ही लगातार बढ़त बनाए रहीं, जो अंत तक जारी रहा। सतवंती देवी की जीत के बाद समर्थकों ने आतिशबाजी की और फूल माला पहनाकर स्वागत किया।

काम पर भरोसा... सतवंती देवी ने घाघरा पश्चिमी सीट से लगातार तीसरी बार जीत दर्ज की

गुमला उत्तरी जिला परिषद सीट से गांव की राजनीति में नया चेहरा बन कर उतरे तेतरु उरांव को सबसे अधिक 8881 मत प्राप्त हुए। अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी अशोक कुमार साहू को 3653 मतों के अंतर से पराजित किया। महारथी हंदू भगत को 1635 मत प्राप्त हुए।

गुमला जिला परिषद मध्य सीट से सरस्वती सिंह 7899 मत लाकर अपने पुत्र जिला परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष केडी सिंह की सीट को बरकरार रखने में कामयाब रहीं। चौथे चरण से अंतिम तक सरस्वती देवी 1781 मत के अंतर से निर्वाचित हुईं।

सुजाता केसरी को कुल 6118 मत प्राप्त हुए। घाघरा पूर्वी सीट से मंती उरांव ने 11898 मत हासिल कर अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी शांता उरांव को 5007 मत से पराजित किया। शंता उरांव को कुल 6891 मत प्राप्त हुए। इस प्रकार से उतार चढ़ाव चलता रहा और प्रत्याशियों की धड़कन गई थी।

बिशुनपुर से पवन जीते: बिशुनपुर जिप सीट से पवन उरांव ने 4719 मत हासिल कर अपने ्रतिद्वंद्वी महात्मा उरांव को 409 मतों के अंतर से पराजित किया। महात्मा उरांव को कुल 4310 मत प्राप्त हुए।

घाघरा प्रखंड में मुखिया पद के लिए ये जीते
दिरगांव से चंपा खड़िया, रुकी से भीम उरांव, बिमरला से चांदनी उरांव, सेहल से सोमारी देवी, शिवराजपुर से बिनोद उरांव, सरांगो से राजेश बड़ाईक, चपका से अंगनी उरांव, चुंदरी से बिनीता कुमारी, बेलागड़ा से रानी उरांव, नवडीहा से राजकुमार भगत, बदरी से फिरंगी उरांव, घाघरा से योगेंद्र भगत जीते।

खबरें और भी हैं...