आरोपी गिरफ्तार:प्रेम-प्रसंग में हुई थी सूरज की हत्या, 4 गिरफ्तार

भरनोएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भरनो थाना क्षेत्र के जतरगडी निवासी 17 वर्षीय सूरज गोप की हत्या में शामिल चार आरोपियों को भरनो पुलिस ने गिरफ्तार कर मंगलवार को जेल भेज दिया। आरोपियों में आमलिया पीपर टोली निवासी विश्वनाथ उरांव, बौना उर्फ बुतरू, पिंटू उरांव और जॉर्ज तिर्की शामिल हैं। भरनो थाना में प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर थाना प्रभारी कृष्ण कुमार तिवारी ने बतलाया कि 17 मई को सुकुरहुट्टू गांव के मनदवा गढ़ा के एक कुआं से एक युवक का शव मिला था।

इसकी पहचान जतरगडी निवासी सूरज गोप के रूप में की गई थी। सूरज की हत्या कर शव कुएं में फेंका गया था। हत्या को लेकर सूरज के बड़े भाई रामेश्वर गोप द्वारा भरनो थाने में आरोपियों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज करवाई थी। प्रभारी ने बतलाया कि अनुसंधान के क्रम में पता चला कि सभी आरोपी पश्चिम बंगाल के बीरपाड़ा चले गए हैं।

भरनो थाना के एस आई सहरु उरांव और सत्यम गुप्ता द्वारा तीन दिनों के अथक प्रयास के बाद बंगाल पुलिस के सहयोग से पकड़कर विश्वनाथ, बौना उर्फ बुतरू और पिंटू उरांव को भरनो थाना लाया गया। जॉर्ज तिर्की पहले ही गांव आ गया था। उसे घर से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

हत्या के कारणों के संबंध प्रभारी ने बतलाया कि सूरज ने जतरा टाना भगत स्कूल से इसी वर्ष वह मैट्रिक की परीक्षा दी थी। उसी स्कूल में एक लड़की भी पढ़ती थी। यह लड़की सूरज से भी बात करती थी और जॉर्ज से भी।

जॉर्ज को सूरज से लड़की का बात करना रास नहीं आता था। आगे चलकर लड़की जॉर्ज के लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगी, फिर भी लड़की ने सूरज से मोबाइल पर बात करना जारी रखा। इसके बाद जॉर्ज द्वारा अपने सहयोगियों से मिलकर सूरज को मौत के घाट उतारकर पश्चिम बंगाल के बीरपाड़ा भाग गया।

खबरें और भी हैं...