ग्रामीणों ने नेशनल हाइवे एक घंटा जाम किया:11 हजार हाइटेंशन तार की चपेट में आने से बच्चे की मौत

रायडीह11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रायडीह प्रखंड के केपुर पंचायत के छत्तरपुर बरगीडांर मीलमीली नदी के समीप सड़क किनारे हरा पेड़ के ऊपर 11 हजार हाइटेंशन तार(लाटु फिडर) की चपेट में आने से 8 साल के नौनिहाल अंश बाड़ा की मौत मौके पर हो गई। आक्रोशित ग्रामीणों ने नेशनल हाईवे 43 एक घंटा जाम किया। जानकारी के अनुसार रविवार सुबह लगभग 10:30 बजे छत्तरपुर निवासी अनिल उरांव का 8 साल का बेटा अंश बाड़ा गांव के अपने छोटे छोटे साथी के साथ मीलमीली नदी खेत की ओर गया था। इसी दौरान खेल-खेल में अंश बाड़ा खेत में मौजूूद पेड़ पर चढ़ा जिसमें पहले से 11 हजार हाइटेंशन तार पेड़ से सट कर गुजरा था। बच्चे जैसे पेड़ पर चढ़ा तार की चपेट में आने से मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

आनन फानन में स्थानीय ग्रामीण मौके पर पहुंचे और इसकी सूचना रायडीह थाना प्रभारी अमित कुमार, बीडीओ अमित कुमार मिश्रा और बिजली विभाग के एसडीओ को फोन पर दी। घटना की सूचना पाकर थाना प्रभारी अमित कुमार मौके पर पहुंच कर स्थानीय ग्रामीणों के सहयोग से शव को पेड़ से उतारा गया। बिजली विभाग के लापरवाही से परेशान ग्रामीणों ने विभाग के खिलाफ नारे लगाए।

घटनास्थल पर मात्र 12 फीट के उपर 11 हजार और 33 हजार वोल्ट का हाइटेंशन तार गुजरा है। बच्चे की मौत के बाद घटना स्थल पर बिजली विभाग के पदाधिकारी के नहीं आने से आहत आक्रोशित ग्रामीणों ने नेशनल हाईवे 43 मांझाटोली के समीप एक घंटा सड़क जाम कर दिया। बिजली विभाग के जेई द्वारा पांच लाख रुपए विभागीय निगम के नियमानुसार देने का आश्वासन दिया। इसके बाद जाम हटा लिया गया।

खबरें और भी हैं...