राष्ट्रीय फाइलेरिया विलोपन कार्यक्रम:790 फाइलेरिया रोगियों में 75 का इलाज होना बाकी

हजारीबाग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रशिक्षण से संबंधित जानकारी देते पदाधिकारी व चिकित्सक। - Dainik Bhaskar
प्रशिक्षण से संबंधित जानकारी देते पदाधिकारी व चिकित्सक।

राष्ट्रीय फाइलेरिया विलोपन कार्यक्रम के तहत रुग्णता प्रबंधन और विकलांगता रोकथाम हेतु एक दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन जिला भी.बी.डी.पदाधिकारी, हजारीबाग की अध्यक्षता में गुरुवार को आयोजित किया गया।

बताया गया कि जिले में कुल 790 लिम्फोडेमा रोग जिसे हाथी पांव रोग भी कहते हैं चिन्हित हैं जिनके रोकथाम के तहत अब तक 715 रोगियों का इलाज किया जा चुका है तथा उन्हें एमएमडीपी किट भी आपूर्ति की गई हैं।

उक्त प्रशिक्षण में जिले के सभी एमटीएस निगरानी निरीक्षक, सभी सा.स्वा.केन्द्र के सीएचओ बी.टी.टी, एमपीडब्ल्यू,शहरी क्षेत्र के निरीक्षक एवं अटल मुहल्ला क्लिनिक से एक ए.एन.एम. प्रतिभागी के रूप में उपस्थित थे। प्रशिक्षण का आयोजन एएनएमटी स्कूल, हजारीबाग में किया गया।

लोगों में फैलाई जाएगी जागरूकता

जिसमें जिला वीसीडी पदाधिकारी, जिला आर.सी. एच. पदाधिकारी, जिला भी.बी.डी. सलाहकार, मलेरिया निरीक्षक द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय फाइलेरिया विलोपन कार्यक्रम के तहत जिले के सा.स्वा. केन्द्र, चुरचू में 10 फरवरी 2023 से 25 फरवरी 2023 तक एम.डी.ए. कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

जिसके सफल क्रियान्वयन हेतु जन समुदाय में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से सभी दैनिक अखबार के पत्रकार बन्धुओं के साथ एम.डी.ए. संबंधी प्रेस मीडिया मीट का आयोजन किया गया है। उक्त आयोजन में जिला वी.बी.डी पदाधिकारी, हजारीबाग द्वारा अनुरोध किया गया है ।

खबरें और भी हैं...