​​​​​​​भास्कर एक्सक्लूसिव:झारखंड के 35 हजार स्कूलों का रंग हाेगा हरा

हजारीबाग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

झारखंड के सभी 35 हजार सरकारी विद्यालयों के भवन अब हरे रंग के होंगे। इसके साथ विद्यालय के रंग-रोगन में वेदर कोट का उपयोग होगा। स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता मंत्री जगरनाथ महतो ने सरकारी विद्यालयों का भवन हरा रंग का करने का निर्देश जारी कर दिया है।

इससे पहले वर्ष 2014-15 में स्कूल भवनों के रंग में बदलाव हुआ था। अब स्कूल भवनों को हरा और ऑफ व्हाइट रंग से रंगा जाएगा। दरवाजे व खिड़की भी हरे रंग के होंगे। रंग-रोगन की बिंदुवार जानकारी जिलों को दे दी गई है।

निर्देश के अनुरूप प्रक्रिया पूरी करने के लिए कहा गया है। फिलहाल सरकारी विद्यालयों के भवनों का रंग गुलाबी हैं और दरवाजा, खिड़की के रंग ब्राउन कलर के हैं।

स्कूलों को प्रतिवर्ष मिलता है अनुदान

जानकारी के मुताबिक राज्य के सरकारी स्कूलों को प्रतिवर्ष अनुदान राशि दी जाती है। यह राशि आवश्यकतानुसार भवन की मरम्मत, रंग-रोगन व सफाई पर खर्च की जाती है। विद्यार्थियों की संख्या के अनुरूप यह राशि दी जाती है। हजारीबाग में शिक्षा विभाग से जुड़े सूत्रों ने कहा है कि निर्देश से संबंधित चिट्ठी अभी नहीं आई है। चिट्ठी मिलते ही मंत्रालय के निर्देशों का पालन किया जाएगा।

कब-कब बदला गया स्कूल भवनों का रंग
जानकारी के अनुसार वर्ष 2002-03 में विद्यालय भवनों का रंग पीला से बदल कर गुलाबी किया गया था। परियोजना निदेशक के स्तर से रंग में बदलाव किया गया था। वर्ष 2014-15 में स्कूल भवनों के रंग में फिर बदलाव किया गया। स्कूल भवनों का रंग ब्राइट पिंक, बॉर्डर टेराकोटा व खिड़की एवं दरवाजा का रंग गोल्डन ब्राउन किया गया था। वर्ष 2018-19 में भवनों के रंग को यथावत रखा गया, पर शौचालय के रंग में बदलाव किया गया।

खबरें और भी हैं...