छत्तीसगढ़ व पलामू के हैं शूटर, यूएसए का पिस्टल मिला:गैंगस्टर अमन साहू के दो शूटर हथियार के साथ हुए गिरफ्तार

हजारीबाग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हजारीबाग पुलिस ने कुख्यात गैंगस्टर अमन साहू के दो शूटरों को हथियार के साथ गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार शूटर छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिला अंतर्गत धर्मजायगढ़ थाना क्षेत्र के बैबी कालोनी का रहने वाला नीतीश सील उर्फ़ मेजर सिंह और दूसरा शूटर पलामू जिला अंतर्गत मेदिनीनगर थाना क्षेत्र के साउथ बारटोला वार्ड नंबर 8 का रहने वाला अभिनव तिवारी उर्फ सुशांत तिवारी है।

दोनों के पास से पुलिस ने मेड इन यूएसए लिखा हुआ 9 एमएम का एक पिस्टल, 9 एमएम का जिंदा कारतूस पांच, 9 एमएम पिस्टल का मैगजीन एक, 7.62 एमएम का जिंदा कारतूस 6, वसूली गई रंगदारी की राशि 57300 नगद, अपराध में प्रयुक्त एक मोटरसाइकिल और 3 स्मार्टफोन बरामद किए गए हैं। इनकी गिरफ्तारी कनहरी पुल के पास से की गई है।

पुलिस के मुताबिक दोनों शूटर के निशाने पर हजारीबाग का एक कोई व्यवसायी था वह गैंगस्टर अमन साहू के निर्देश पर अपराध को अंजाम देने के लिए हजारीबाग पहुंचे थे साथ ही गैंगस्टर का निर्देश पर यहां संचालित कॉल कंपनी और कोयला व्यवसायियों के बीच दहशत फैलाने के लिए आपराधिक घटना को अंजाम देने की योजना थी।

एसपी मनोज रतन चौथे ने बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली थी कि गैंगस्टर अमन साहू गिरोह के 2 शूटर हजारीबाग पहुंचे हुए हैं जो किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की तैयारी में है । इसी सूचना पर उन्होंने एक टीम बनाया। जिसमें कोर्रा थाना प्रभारी उत्तम कुमार तिवारी, मुफस्सिल थाना प्रभारी बजरंग महतो, तकनीकी सेल और नक्सल सेल की टीम को लगाया गया। टे

क्निकल सेल की मदद से गठित टीम ने दोनों को कनहरी पुल के पास मंगलवार को दोपहर में धर दबोचा। दोनों के विरुद्ध कोर्रा थाना में कांड संख्या 267/22 धारा 25( IA) 26/35 आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज करते हुए मंगलवार को देर शाम जेल भेज दिया गया।

बताया गया कि गिरफ्तार शूटरों से हजारीबाग व आसपास के जिला क्षेत्र में सक्रिय अमन साहू गिरोह के अपराधियों का अहम सुराग मिला है साथ ही अपराधियों को शेल्टर देने वाले लोगों की भी सूची इन्हें प्राप्त हुई है। एसपी ने बताया कि बहुत जल्द इनसे मिले सुराग के आधार पर और अमन साहू गिरोह के कई अपराधी गिरफ्तार किए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...