पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उदासीनता:चुएं से बुझती है 74 परिवारों की प्यास, गांव में एक भी सरकारी नलकूप नहीं

आनंदपुर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रखंड के अतिनक्सल प्रभावित गांव जोमत्री में मूलभूत सुविधाओं का टोटा, प्रखंड से टोले की दूरी लगभग 30 किमी

आनंदपुर प्रखंड के कई ऐसी पंचायतें हैं जिसके अंतर्गत आने वाले सैकड़ों गांवों में सालों से पानी की समस्या जस की तस है। एक ऐसा ही मामला प्रखंड के अतिनक्सल प्रभवित गांव जोमत्री का है। गांव में मुंडा टोला, रंगारोगों कोचा, स्कूल टोली एवं नीचे टोली में 74 परिवार के लगभग 450 की आबादी है। इनकी प्यास एक मात्र ढुड़ी चुआं सेे ही बुझती है। प्रखंड से टोले की दूरी लगभग 30 किमी है। जबकि गांव कोयल नदी के किनारे बसा हुआ है। इसके बावजूद गांव के लोगों को पानी की एक-एक बूंद के लिए तरसना पड़ता है।

ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार गांव में सरकारी मद से बनने वाले सिंचाई कुआं, नलकूप, जलमीनार आदि का नामोनिशान तक नहीं है। गर्मी के मौसम में चुआं सूख जाने से लोग पानी की समस्या से त्राहिमाम करने लगते हैं। गांव में उत्क्रमित प्राथमिक विद्यालय का संचालन होता है। जिसमें लगभग 40 बच्चे अध्ययनरत हैं। लेकिन स्कूल में नलकूप की कोई व्यवस्था नहीं है। स्कूल के बच्चे भी चुएं के पानी का ही उपयोग करते हैं। ग्रामीणों ने बताया कि गांव में एक बार बोरिंग गाड़ी आी थी, लेकिन बिना बोरिंग किए भाग गई। गांव के लोग पानी की समस्या के अलावा और भी कई मूलभूत समस्याओं से जूझ रहे हैं।

क्या कहते हैं जनप्रतिनिधि

जोमत्री गांव में पानी की समस्या का निवारण जल्द ही किया जाएगा। ग्रामीणों से आग्रह है कि वह विधायक के नाम से पेयजल की समस्या से संबधित एक आवेदन दें। इसके बाद गांव में विधायक फंड से जलमीनार दी जाएगी।

-जोबा माझी, कैबिनेट मंत्री

गांव में पेयजल की काफी समस्या है। 450 लोगों की आबादी पर एक भी सरकारी नलकूप व कुआं नहीं है। लोग एक मात्र ढुड़ी चुआं से पीने का पानी की व्यवस्था करते हैं।

-विल्सन कंडायबुरू, उपमुखिया, रूंगीकोचा पंचायत

गांव में सालों से पेयजल की कोई व्यवस्था नहीं है, गांव के लोग एक चुएं से ही अपनी प्यास बुझाते आ रहे हैं। इसके अलावा गांव में सरकारी योजनाओं का भी टोटा है।

-लखींद्र मुंडा, ग्राम मुंडा जोमत्री

गांव में एक स्कूल का संचालन होता है। लेकिन विद्यालय परिसर में नलकूप की कोई व्यवस्था नहीं है। गर्मी के मौसम में पानी की दिक्कत बढ़ जाती है। लोगों को कोयल नदी में चुआं बनाकर पानी लेना पड़ता है।

-जोसफिना दाराई, स्वास्थ्य साहिया जोमत्री

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें