जांच / आज से 17 जुलाई तक जिले के कस्तूरबा विद्यालयों में लेखा-बही की होगी जांच

X

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 06:30 AM IST

चाईबासा. पश्चिमी सिंहभूम जिले के सभी 15 केजीबीवी (कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय) के वित्तीय मामलों को लेकर सांगो-पांग जांच होगी। एक जुलाई से प्रत्येक कस्तूरबा विद्यालय में जांच के लिए तिथिवार घोषणा की गई है। इसके पहले सभी केजीबीवी को अपना खाता-बही अपटूडेट करने का निर्देश दिया गया है। लेकिन लॉकडाउन के कारण स्कूल बंद रहने के कारण सभी कार्य ठप हैं।  ऐसे में सांगो-पांग जांच का आदेश सभी लेखापाल के लिए गले की हड्डी बन गया है। सूत्रों की मानें तो अधिकतर कस्तूरबा विद्यालयों में लेखा-बही अपटूडेट नहीं है।

लाॅकडाउन के दौरान विभिन्न कस्तूरबा विद्यालयों में स्टेट क्वारेंटाइन सेंटर बनाया गया है। स्कूलों को मार्च में ही खाली करा दिया गया था। हमेशा से वित्तीय मामलों को लेकर विवादित रहने वाले कस्तूरबा विद्यालयों की अगर सही से जांच हो गई तो कई वित्तीय अनियमितताएं  सामने आ जाएंगी। बनाई गई है जांच टीम सभी कस्तूरबा विद्यालयों में अंकेक्षण के लिए विशेष जांच टीम बनी है। यह टीम एक जुलाई से 17 जुलाई के बीच प्रत्येक दिन अलग-अलग कस्तूरबा विद्यालय में जाकर लेखा-जोखा की जांच करेगी। इस टीम में डीईओ नीरजा कुजूर, जिला अतिरिक्त कार्यक्रम पदाधिकारी, लेखा पदाधिकारी और कस्तूरबा विद्यालय के प्रभाग प्रभारी को शामिल किया गया है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना