अमरनाथ में तैनात शहर का जवान शहीद:गुफा के पास ऑक्सीजन की कमी होने से पड़ा दिल का दौरा, गई जान

चाईबासा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शहीद मनोहर। - Dainik Bhaskar
शहीद मनोहर।

सर्किट हाउस एरिया के पास बेल्डीह ग्राम में रहने वाले भारतीय सेना के हवलदार मनोहर कुंकल (42) की जम्मू कश्मीर में अमरनाथ गुफा के समीप ऑक्सीजन की कमी के बाद दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। मनोहर मूल रुप से पश्चिम सिंहभूम के मंझारी के रहने वाले थे। मार्च-2021 में ही मनोहर के ट्रूप की पोस्टिंग अमरनाथ में हुई थी। मंगलवार दोपहर मनोहर अमरनाथ गुफा के पास ही तैनात थे।

अचानक उन्हें सांस लेने में दिक्कत होने लगी। उनका ऑक्सीजन लेवल काफी नीचे आ गया था। इस बीच दिल का दौरा पड़ने से उनकी सांस थम गई। देर शाम शव बेस कैंप लाया गया। बुधवार सुबह इसकी सूचना परिजनों को दी गई। मनोहर का पार्थिव शरीर गुरुवार को सेना के विशेष विमान से जम्मू कश्मीर से रांची और वहां से मंझारी ले जाया जाएगा। मनोहर पत्नी शोभा कुंकल, बेटा मोहित कुंकल और बेटी माही कुंकल के साथ बेल्डीह ग्राम में रहते थे। बेटा बेल्डीह चर्च स्कूल में 10वीं और बेटी माही सातवीं की छात्रा है।

शहीद मनोहर की तस्वीर के साथ के परिजन।
शहीद मनोहर की तस्वीर के साथ के परिजन।

सांस लेने में दिक्कत के बाद भी कभी काम से पीछे नहीं हटे : शोभा

शोभा कुंकल ने बताया- पति हमेशा अमरनाथ में ऑक्सीजन की कमी से सांस लेने की समस्या बताते थे। लेकिन वे काम से पीछे नहीं हटे। दो दिन पूर्व ही पति अमरनाथ से नीचे उतरने वाले थे। लेकिन पूरा ट्रूप उतर नहीं पाया। मंगलवार दोपहर करीब 12 बजे पति ने फोन कर कहा था- 27 अगस्त तक जमशेदपुर आऊंगा और पूरा परिवार इंज्वाय करेंगे। पति के छुट्‌टी पर आने की बात से हम सब खुश थे। लेकिन अगले ही दिन मनहूस खबर आई।

खबरें और भी हैं...