पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सम्मान:मारवाड़ी सम्मेलन ने पुलिस पदाधिकारियों व समाजसेवियों को किया सम्मानित

चाईबासा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोविड-19 में अपनी जान की परवाह किए बिना जिला प्रशासन, पुलिसकर्मी और समाजसेवियों ने किया था सहयोग

कोविड-19 में अपनी जान की परवाह किए बिना आम जनता की सुरक्षा में लगे जिला प्रशासन व पुलिस पदाधिकारियों तथा समाजसेवियों को मारवाडी सम्मेलन चाईबासा द्वारा रविवार को समारोह में सम्मानित किया गया। समारोह में सभी को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। कोविड-19 महामारी के दौरान शहर तथा गांव के लोगों की सुरक्षा के लिए कुछ पदाधिकारी कोरोना से ग्रसित होने के बाद स्वस्थ होने पर पुनः अपनी उपस्थिति दर्ज करवाते हुए अपने कार्य में जुटे रहे। जनता की सुरक्षा में अपनी परवाह न करते हुए प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से कई लोगों ने अपनी सेवा में कोई कसर नहीं छोड़ी। वहीं सामाजिक संगठनों ने भी कोरोना की लड़ाई में अपना सहयोग दिया।

इस सेवा भाव को लेकर मारवाड़ी सम्मेलन द्वारा चिकित्सक, प्रशासनिक पदाधिकारी, नगर परिषद व समाजसेवियों को सम्मानित किया गया। शाखा अध्यक्ष अनिल मुरारका के नेतृत्व में पश्चिमी सिंहभूम के उपायुक्त अनन्य मित्तल, पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा, असैनिक शल्य चिकित्सा पदाधिकारी, सदर अनुमंडल पदाधिकारी शशीन्द्र बड़ाईक, पुलिस अनुमंडल पदाधिकारी दिलीप खलखो, चाईबासा नगर परिषद, डॉक्टर अरुण कुमार, डॉक्टर विजय मुंधडा, डॉक्टर जगन्नाथ हेमब्रम, डॉक्टर श्रीकांत अग्रवाल, डॉक्टर बीके सिंह, सदर थाना प्रभारी निरंजन तिवारी, मुफ्फसिल थाना प्रभारी पवन चन्द्र पाठक को चाईबासा गौरव से सम्मानित कर उनके सहयोग के लिए आभार प्रकट किया गया। सम्मान समारोह में शाखा अध्यक्ष अनिल मुरारका, जिलाध्यक्ष राजकुमार मुंधड़ा, जिला सचिव नरेश अग्रवाल, उपाध्यक्ष गौरी शंकर चिरानिया, कोषाध्यक्ष पवन चाण्डक, शाखा सचिव रमेश खिरवाल, रुपेश अग्रवाल, धीरज अग्रवाल, मनोज शर्मा, नारायण पाडिया आिद थे।

खबरें और भी हैं...