पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मलेरिया:रोरो गांव में 4 दिनों में एक दर्जन से ज्यादा ब्रेन मलेरिया के मामले

चाईबासा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने पहल नहीं की

रोरो गांव में ब्रेन मलेरिया से तीन व्यक्तियों को गंभीर रूप से बीमार होने के बाद यहां लोग डरे हुए हैं। गंभीर रूप से बेहोशी की हालत में यहां पानी टंकी का काम कर रहे शमशाद नामक राजमिस्त्री को सदर अस्पताल में दाखिल कराया गया है। उसके दो अन्य साथी आजाद एवं फजूल रहमान भी इस बीमारी से ग्रस्त हैं। इसके 4 दिन पूर्व चाइबासा मोचीसाई के पांच युवक रोरो गांव में ब्रेन मलेरिया के शिकार हुए है।

सूरज कछप, अविनाश कुजुर, विशाल भुइँया , श्रवण भुइयां एवं एक अन्य को ब्रेन मलेरिया होने के बाद स्थानीय नर्सिंग होम में दाखिल कराया गया था। इसके पूर्व इस गांव में 6 लोगों को ब्रेन मलेरिया के कारण अस्पताल लाया गया था। रोरो गांव में ब्रेन मलेरिया के बढ़ती घटनाओं के बावजूद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने इस ओर ध्यान नहीं दिया है।

कोरोना से एक की मौत 25 नए संक्रमित मिले

पश्चिमी सिंहभूम जिले में मंगलवार को कोरोना से एक कि मौत हो गई जबकि 25 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं जबिक 28 लोग स्वस्थ हुए हैं। मिली जानकारी के अनुसार बुधवार को चाईबासा सदर प्रखंड स्थित बरकुंडिया गांव का 55 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत कोरोना से हो गई है। वह जमझेदपुर के टीएमएच इलाजरत था।

खबरें और भी हैं...