उपकरण जमा:पुलिस अधीक्षक ने गरीब छात्रों के बीच स्मार्टफोन का किया वितरण

नोवामुंडी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना काल में अधिकांश स्कूल-कॉलेज करीब डेढ़ वर्षों से बंद पड़े हैं। इससे विद्यार्थी सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। सक्षम परिवारों के बच्चे तो स्मार्टफोन, लैपटॉप के माध्यम से ऑनलाइन क्लास कर अपनी पढ़ाई कर ले रहे हैं, किन्तु अधिकांश गरीब घरों के बच्चे आर्थिक अभाव के कारण स्मार्टफोन जैसे महंगे उपकरण खरीद पाने में असमर्थ हैं।

इससे वह पढ़ाई से बंचित हैं। उक्त बातें प. सिंहभूम जिला के आरक्षी अधीक्षक अजय लिंडा ने नोवामुंडी थाना की ओर से कल्याण मंडप में आयोजित स्मार्टफोन वितरण कार्यक्रम में उपस्थित छात्र-छात्राओं, मुंडा-मानकी, जनप्रतिनिधियों तथा समाजसेवियों को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि गरीब बच्चों की बाधित हो रही पढ़ाई को देखते हुए झारखंड पुलिस महानिदेशक के निर्देश पर सभी थानों में बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए उपकरण बैंक की स्थापना कर गरीब बच्चों के नाम पर अपने सामर्थ्य अनुसार स्मार्टफोन एवं लैपटॉप जैसे उपकरण जमा करने का लोगों से अनुरोध किया गया था।

इसी संदर्भ में आज मुझे नोवामुंडी के गरीब छात्रों के बीच स्मार्टफोन वितरण करने का मौका मिला है। इस दौरान विभिन्न स्कूलों के करीब 29 छात्र-छात्राओं के बीच स्मार्टफोन का वितरण किया गया।

खबरें और भी हैं...