राज्य के प्राकृतिक खजाने की लूट-5:लाल माटी के कारोबार में शामिल शिक्षक पुलिस की गिरफ्त से बाहर

चाईबासा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • खुशहाल कोल्हान में खनिज की किस कदर लूट मची है
  • पश्चिमी सिंहभूम के बड़ाजामदा में देखें, यहां खनन माफियाओं का राज
  • सम्मानित शिक्षक के घर से पुलिस ने बरामद किया लोडर

झारखंड की संपदा लूटने में राष्टपति पुरस्कार से सम्मानित शिक्षक भी पीछे नहीं रहे। बतौर पार्टनर बनकर बड़ाजामदा के मुखिया राजा तिर्की के साथ बंद क्रशर से लौह आयस्क की कालाबजारी करने में संलिप्त रहे।

फिलहाल पुलिस की गिरफ्त से फरार चल रहे हैं, जबकि बड़ाजामदा पुलिस शिक्षक के घर से काले कारनामों का साक्ष्य को जुटाने के लिए सीसीटीवी कैमरा को अपने कब्जे में लेकर खंगालने की कोशिश में है, लेकिन पासवर्ड लगा होने के कारण पुलिस की जांच थम गई है।

वहीं, शिक्षक की पत्नी और बेटा के नाम पर लोडर और अन्य गाड़ी, बड़ाजमादा थाने में जब्त है। जबकि यह भी चर्चा है कि आयरन और की तस्करी में बड़ाजामदा के स्थानीय चार लोग और भी शामिल हैं जिनका नाम अभिषेक गुप्ता, गौतम गुप्ता व बड़ाजामदा के राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित शिक्षक के पुत्र हैं।

बड़ाजामदा पुलिस राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित शिक्ष के घर में लगा सीसीटीवी कैमरा निकालकर बड़ाजामदा थाने ले आई है, जिसकी जांच में बड़ा खुलासा होने की उम्मीद है।

आयरन ओर की तस्करी में बड़ाजामदा थाना का भी हाथ होने की हो रही चर्चा

इधर चर्चा है कि इस आयरन ओर की तस्करी में बड़ाजामदा थाना का भी सबसे बड़ा हाथ है। बताया जा रहा है कि बड़ाजामदा थाना की मिलीभगत से ही अवैध आयरन ओर की तस्करी की जा रही थी। जब तक सीसीटीवी का फुटेज को खंगाला नहीं जाता तब तक कौन-कौन इस अवैध आयरन और की तस्करी में शामिल हैं पूरी तरह से पता नहीं चल पाएगा। सूत्रों के मुताबिक से यह भी पता चला है कि इस सीसीटीवी फुटेज को फॉर्मेट करने का भी प्रयास किया जा रहा है, ताकि इसमें कैद साक्ष्य को छुपाया जा सके।

साथ ही आयरन और की तस्करी में शामिल लोडर को बड़ाजामदा पुलिस ने बुधवार को आधी रात को राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित प्राचार्य के घर से बरामद कर लिया है। चर्चा होना भी लाजमी है कि पिछले तीन माह से उस बंद क्रशर से लौह आयस्क की चोरी हो रही थी और स्थानिय पुलिस को भनक नहीं यह भी सोचनीय विषय है। खैर मामला जो भी है यह तो बड़ी जांच का विषय है।

खबरें और भी हैं...