ठेकेदार छीन रहा मजदूरों का हक:कुमारलोटा गांव में स्कूल निर्माण में लगे मजदूरों को ‌रू 260 ही मजदूरी

चाईबासा25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

खूंटपानी प्रखंड के मटकोबेड़ा पंचायत के कुमारलोटा गांव में स्कूल भवन निर्माण में लगे मजदूरों को न्यूनतम मजदूरी नहीं दी जा रही है। इससे वे परेशान हैं। इसके अलावा कार्यस्थल में बिना साइन बोर्ड लगाए कार्य को शुरू किया गया है। गांव के मजदूरों को 336 रुपए के स्थान पर 260 रुपए भुगतान कर रहे हैं। ठेकेदार राजीव गुप्ता मजदूरों का हक छीन रहे हैं। मजदूर कई बार अपनी मजदूरी बढ़ाने के लिए बोल चुके हैं, लेकिन इसे नजरअंदाज करते हुए काम के हिसाब से मजदूरी मिलने की बात कही जाती है।

मजदूरों ने कहा कि पिछले कई महीनों से समय पर मजदूरी का भुगतान भी नहीं हो रहा है। इस मामले को लेकर झारखंड जेनरल कामगार यूनियन के सरायकेला-खरसावां जिलाध्यक्ष हीरालाल हेम्ब्रम के नेतृत्व में मजदूरों को न्यूनतम मजदूरी दिलाने का प्रयास कर रहे हैं। हीरालाल हेम्ब्रम ने कहा कि एक तो समय पर मजदूरी का भुगतान नहीं होता है। दूसरी ओर सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम मजदूरी भी नहीं दी जा रही है।

इससे मजदूरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। शुक्रवार को यूनियन के कई पदाधिकारी मजदूरी नहीं मिलने संबंधित मामले को लेकर कार्य स्थल पहुंचे, जहां मजदूरों के साथ बैठक भी की। इस दौरान मामले को गंभीरता से लेते हुए संबंधित अधिकारी तक मामले को पहुंचाने की बात कही गई। मौके पर विनोद कुमार, चरिबा जारिका, पंचमी कुमारी, पिनी जारिका, सुमी जारिका, सिमा जारिका, ललिता जारिका, संगीता बोदरा आदि थे।

खबरें और भी हैं...