तैयारी:अनुमंडल अस्पताल में जल्द बनेंगे 50 बेड, आठ ऑक्सीजन कनेक्टेड और 2 वेंटिलेटर बेड तैयार

चक्रधरपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • उपायुक्त ने अनुमंडल अस्पताल और मारवाड़ी हाई में चल रहे वैक्सीनेशन सेंटर का किया निरीक्षण

चक्रधरपुर अनुमंडल अस्पताल में 50 ऑक्सीजनयुक्त बेड जल्द ही तैयार होंगे। इसको लेकर गुरुवार को पश्चिम सिंहभूम के उपायुक्त अनन्य मित्तल अनुमंडल अस्पताल और किशोर-किशोरियों के लिए चल रहे वैक्सीनेशन केंद्र का निरीक्षण किया।

मौके पर उनके साथ पोड़ाहाट अनुमंडल पदाधिकारी अभिजीत सिन्हा, सिविल सर्जन डॉ. बी उरांव, बीडीओ संजय कुमार सिन्हा, अनुमंडल अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. मोईन अख्तर अंसारी मौजूद थे। उपायुक्त ने सर्वप्रथम अस्पताल परिसर में निर्मित ऑक्सीजन प्लांट को देखा। इसके बाद बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर अनुमंडल अस्पताल परिसर में निर्मित 8 ऑक्सीजन कनेक्टेड बेड तथा दो वेंटिलेटर बेड को देखा। वहीं अस्पताल में बेडों तक पाइपलाइन के माध्यम से पहुंचाने के कार्यों का भी जायजा लिया। डीसी ने कार्य को देख अस्पताल की सराहना की। इधर शहर के मारवाड़ी हाई स्कूल प्लस टू परिसर में किशोर-किशोरियों के लिए वैक्सीनेशन का कार्य चल रहा है।

उपायुक्त ने वहां पहुंच कर लाइन में खड़े किशोर-किशोरियों से बातचीत कर कहा कि वैक्सीन से घबराने की जरूरत नहीं है। उनका हौसला अफजाई किया। तत्पश्चात मेडिकल स्टॉपों से जानकारी ली। कर्मियों ने वैक्सीन कम होने की बात कही। जिस पर उपायुक्त ने उपलब्ध हो जाने की बात कही। वहीं सिविल सर्जन को वैक्सीन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। मौके पर बीईईओ विजय कुमार और मारवाड़ी हाई स्कूल के शिक्षक-शिक्षिकाएं उपस्थित थीं।

एक हफ्ते में शुरू हो जाएगा ऑक्सीजन प्लांट : डीसी

उपायुक्त मित्तल ने निरीक्षण के बाद मीडिया से कहा कि अनुमंडल अस्पताल में जल्द ही ऑक्सीजन प्लांट तैयार हो जाएगा। पाइपलाइन से जोड़ते हुए अस्पताल में 50 बेड ऑक्सीजनयुक्त किए जाएंगे। जबकि वर्तमान में 8 बेड ऑक्सीजन से कनेक्टेड हैं। वहीं दो बेड वेंटिलेटर बनाए गए हैं। उम्मीद है कि 5 से 7 दिनों में प्लांट चालू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमण को देखते हुए पहले जो भी अस्पताल तैयार थे, उन्हें पुन: फंक्शनल में लाया जा रहा है। सभी सीएससी, सदर अस्पताल, अनुमंडल अस्पताल में व्यवस्था दुरुस्त की जा रही है। जरूरत पड़ने पर पुराने आइसोलेशन सेंटर, कोरेंटाइन सेंटरों को उपयोग में लाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...