पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

रक्षाबंधन कल:सुबह 9.30 बजे तक भद्रा, इसके बाद पूरे दिन बहनें बांध सकती हैं राखी

घाटशिला5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • वर्ष 1991 के बाद पहली बार भाई-बहन के त्योहार पर बन रहा सर्वार्थ सिद्धि अाैर दीर्घायु अायुष्मान याेग का शुभ संयोग
Advertisement
Advertisement

इस बार का रक्षाबंधन बहुत खास है। 3 अगस्त को रक्षाबंधन पर 1991 के बाद सर्वार्थ सिद्धि और दीर्घायु आयुष्मान याेग के साथ सूर्य शनि के समसप्तक याेग, साेमवती पूर्णिमा, मकर का चंद्रमा श्रवण नक्षत्र, उत्तराषाढ़ा नक्षत्र और प्रीति याेग बन रहा है। सोमवार को सावन की अंतिम तिथि पूर्णिमा है। इसी दिन सुबह 9.30 बजे तक भद्रा रहेगी। ज्योतिषाचार्य पंडित रमेश कुमार उपाध्याय शास्त्री ने बताया- भद्रा के बाद ही बहनों को रक्षासूत्र बांधना चाहिए। 9.30 के बाद पूरे दिन राखी बांध सकती हैं। रक्षाबंधन पर गुरु अपनी राशि धनु में और शनि मकर में वक्री रहेगा।

इस दिन चंद्र ग्रह भी शनि के साथ मकर राशि में रहेगा। अंक ज्योतिष आचार्य राजेश भारती ने बताया कि योग 558 साल पहले 1462 में बना था। उस साल में 22 जुलाई को रक्षाबंधन मनाया गया था। इस बार रक्षाबंधन पर राहु मिथुन राशि में, केतु धनु राशि में है। 1462 में भी राहु-केतु की यही स्थिति थी। साथ ही श्रावण सोमवार व पूर्णिमा एक साथ होने से आनंद योग सर्वार्थ सिद्ध योग श्रावण योग बन रहा है जो आज से 29 वर्ष पूर्व वर्ष 1991 में बना था। इस वर्ष रक्षाबंधन पर भद्रा का साया भी नहीं रहेगा।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज पिछले समय से आ रही कुछ पुरानी समस्याओं का निवारण होने से अपने आपको बहुत तनावमुक्त महसूस करेंगे। तथा नजदीकी रिश्तेदार व मित्रों के साथ सुखद समय व्यतीत होगा। घर के रखरखाव संबंधी योजनाओं पर भ...

और पढ़ें

Advertisement