पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मांग:गुड़ाबांदा के नागरापाल में घरों में आ रहा करंट अनहोनी की आशंका से कनेक्शन काटने की मांग

घाटशिला10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सनसिटी इंटरप्राइजेज के किए गए विद्युतीकरण कार्य में गड़बड़ी का खामियाजा भुगत रहे हैं ग्रामीण

दीनदयाल विद्युतीकरण योजना के तहत घाटशिला अनुमंडल के तीन प्रखंडों में चल रहे विद्युतीकरण की योजना ग्रामीणों के लिए मौत को आमंत्रण दे रही है। सनसिटी इंटरप्राइजेज द्वारा किए गए विद्युतीकरण का खामियाजा कई गांव के लोग भुगत रहे हैं। ताजा घटना गुड़ाबांदा के सिंहपुरा के नागरापाल गांव की है। यहां घर-घर में करंट आने लगा है। लोग दहशत से बिजली कनेक्शन कटवाने की मांग कर रहे हैं।  बिजली कंपनी द्वारा हड़बड़ी में घर-घर किए गए कनेक्शन के कारण तथा केबुल में फाॅल्ट से घरों में करंट दौड़ रहा है।

यह मौत के आमंत्रण से कम नहीं है। ग्रामीणों ने जीएम को पत्र लिखकर तुरंत केबुल को बदलने अथवा कनेक्शन कटवाने की मांग की है। इस मामले को लेकर बहरागोड़ा विधायक समीर मोहंती ने भी शिकायत की है। वह जीएम को पत्र लिखकर जांच कराने की मांग की है। उपभोक्ताओं ने शिकायत की है कि सनसिटी ठेका कंपनी की ओर से सैकड़ों गांवों में बिजली कनेक्शन दिया जा रहा है। इसमें भारी अनियमितता बरती जा रही है। जांच एजेंसी भी मिलीभगत से कंपनी को क्लीन चीट दे रही है। बिजली के पोल भी ठीक से गाड़े नहीं गए हैं। जिसके कारण बिजली पोल झुक गए हैं।

घटिया क्वालिटी का केबुल लगाए जाने के कारण अक्सर गांव में शार्ट-सर्किट से आग लगने की घटना हो रही है। ट्रांसफाॅर्मर के निकट अर्थिंग के लिए नाम मात्र का पाइप गाड़ा गया है। कई ट्रांसफाॅर्मर का लाइन काटने का हैंडल तक नहीं लगाया गया है। पोल को सपोर्ट करने वाले (स्टे) तार को जमीन में गाड़ने की बजाय पेड़-पौधे से बांध दिया गया है। गांव के कुशल मुर्मू ने बताया कि ट्रांंसफाॅर्मर अौर जमीन से (सतह) की दूरी काफी कम है। इस वजह से बच्चे अथवा मवेशी इसकी चपेट में अा सकते हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

    और पढ़ें