पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खानापूर्ति:विश्व पर्यावरण दिवस पर पौधा लगाकर फोटो खिंचवातेे रहे वनकर्मी, उधर सैकड़ों हरे पेड़ कटे

धालभूमगढ़8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पिछले तीन वर्षों में वन विभाग के ने पाेधरोपण के नाम पर महज खानापूर्ति की
  • धालभूमगढ़ में माफियाओं ने हरियाली पर चला दी आरी
  • वन कटाई के बारे में किसी को नहीं चला पता

धालभूमगढ़ में पर्यावरण दिवस पर एक तरफ जहां वनकर्मी पौधारोपण कर फोटो खिंचवाने में व्यस्त रहे, वहीं दूसरी ओर माफिया सैकड़ों हरे वृक्षों को काट ले गए। इसकी भनक तक नहीं लगी। वनों की देखभाल, अवैध तरीके से वृक्षों की हो रही कटाई को रोकने में वन विभाग पूरी तरह अक्षम साबित हो रहा है। पिछले तीन वर्षों में वन विभाग के ने पाेधरोपण के नाम पर महज खानापूर्ति की है।

पूर्व में जहां भी पेड़ लगाए गए थे वो लगभग समाप्त हो चुके हैं। जो बचे हैं वो भी वन माफियाओं के निशाने पर हैं। वन अधिकारी विश्व पर्यावरण दिवस, स्वतंत्रता दिवस व गणतंत्र दिवस या किसी मंत्री के आगमन पर दो-चार पेड़ लगवाकर वृक्षारोपण के कार्य की इतिश्री कर लेते हैं, पिछले तीन-चार वर्षों में पाैधरोपण योजना पर अगर ध्यान दिया जाए तो मात्र इसकी औपचारिकता ही पूरी की गई। रखरखाव के नाम पर लाखों खर्च होने के बावजूद हरियाली गायब होती जा रही है। अगर स्थिति यही रही तो आने वाले समय में क्षेत्र से हरियाली पूरी तरह समाप्त हो जाएगी।

खबरें और भी हैं...