पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जज्बा:भालू के हमले में सबर महिला ने जान पर खेलकर बचाई पति की जान, डंडे से पीटकर भालू को भगाया

धालभूमगढ़8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आस्ता कवाली पंचायत के भीतरचाकड़ी गांव के पास लालपहाड़ जंगल में भुक्तभोगी दंपती गांव वालों का बैल चराने गए थे

डुमरिया के भीतरचाकड़ी गांव की एक सबर महिला पति को एक जंगली भालू से बचाने के लिए जान पर खेल गई। महिला भालू से भिड़ गई। इस दाैरान भालू के हमले में उसका पति गंभीर रूप से जख्मी हो गया। घटना शनिवार दोपहर की है। आस्ता कवाली पंचायत के भीतरचाकड़ी गांव निवासी मिंकी सबर ने बताया-वह पति चोहरा सबर (25) के साथ रोज की तरह गांव वालों के मवेशी चराने के लिए नजदीक के लालपहाड़ जंगल गई थी। अचानक दो जंगली भालू झाड़ी से निकलकर सामने आ गए। एक भालू ने चोहरा सबर पर हमला कर दिया।

मिंकी केे हाथ में एक डंडा था। पति पर हमला करता देख मिंकी भालू को डंडे से मारने लगी। अचानक भालू उसकी तरफ आकर जंगल की अाेर भाग गया। हमले में भालू के नाखून मिंकी के पेट में भी लगे, लेकिन घाव ज्यादा गंभीर नहीं था। भालू के हमले में चोहरा सबर के दाहिना हाथ की हड्‌डी टूट गई। सिर को भालू ने नाखून से चीर दिया। लहूलुहान अवस्था में पति को पकड़कर मिंकी पहाड़ से नीचे उतरी। वहां धान काट रहे लोगों ने गांव जाकर लोगों को सूचना दी। लोग खटिया लेकर आए और गांव तक पहुंचाया। गांव से एंबुलेंस से डुमरिया सीएचसी ले जाया गया। चोहरा सबर के सिर में गंभीर चोट लगी है। सीएचसी के चिकित्सक डाॅ शायबा सोरेन नेे सहयोगी अनूप नंद व वरुण बेरा के साथ मिलकर चोहरा के सिर में टांके लगाए। सूचना पाकर फाॅरेस्टर सौरभ कुमार ने चोहरा की पत्नी को तत्काल इलाज के लिए 5000 रुपए दिए।

इधर धालभूमगढ़ मौदाशाेली पंचायत के बाघुशोली जंगल में विचरण कर रहा जंगली सूअर पिछले कई दिनाें से गांव में घुसकर उत्पात मचा रहा है। जंगली सूअर का शिकार करने के लिए आसपास के ग्रामीण गोलबंद हो रहे हैं। जंगली सूअर का शिकार करने के लिए लोग लाठी, डंडा, तीर-धनुष लेकर बाघुआशोली गांव के समीप जमा भी हुए थे। अभी तक जंगली सूअर का शिकार नहीं कर पाए हैं। इधर वन विभाग को इसकी सूचना मिलने के बाद वन कर्मियों द्वारा सूअर का शिकार राेकने की पहल की जा रही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें