आशीर्वाद’ याेजना:सालकु, पार्वती, बसंती, मालती और शकुंतला नहीं बेचेंगी हड़िया-दारू

मुसाबनी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हड़िया-दारू बिक्री और निर्माण से जुड़ी ग्रामीण महिलाओं को प्राथमिकता के आधार पर ‘फूलो झानो आशीर्वाद’ याेजना के तहत आत्मनिर्भर बनाने का काम सरकार कर रही है। इस उद्देश्य से मुसाबनी प्रखंड फॉरेस्ट ब्लॉक में आयोजित सरकार आप के द्वार कार्यक्रम में पांच महिलाओं को इस योजना के तहत 10 हजार रुपए का लोन देकर किया गया।

फॉरेस्ट ब्लॉक पंचायत के पाथरगोड़ा गांव की रहने वाली सालकु मुर्मू, मालती हेम्ब्रम, पार्वती बानरा, बंसती मार्डी और शकुंतला मार्डी को यह चेक बीडीओ ने दिया । इन महिलाओ ने बीडीओ सीमा कुमारी को भरोसा दीया कि अब ये हड़िया दारु नहीं बेचेगी। बल्कि इस राशि से सब्जी का व्यापार करेगी। दरअसल इन महिलाओं ने बताया कि परिवार के आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण हड़िया दारु बेचने का काम हाट बजार एवं सड़को के किनारे करती है।

जेएसएलपीएस द्वारा सर्वे करने पर उक्त पांच महिलाओं को आर्थिक सहयोग करने की बात कही और सभी को इस योजना के बारे में जनकारी दी गई । फिर प्रखंड विकास पदाधिकारी सीमा कुमारी को सूचित किया गया। इसी क्रम में बुधवार काे फॉरेस्ट ब्लॉक में आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार का शिविर लगा तो पांच महिलाओं को फूलो झानो आशीर्वाद योजना के तहत विभिन्न कामों के लिए लिए बिना ब्याज का 10 हजार रूपए का लोन उपलब्ध कराया गया जिससे वे काफी खुश हैं तथा नए रोजगार से जुड़कर आर्थिकोपार्जन के लिए भी लालायित हैं।

प्रखंड विकास पदाधिकारी ने सभी को अच्छी जीवन यापन हेतु शुभकामानाएं दी। सालकु मुमू ने बताया कि उक्त राशि से वे सब्जी बेचने का दुकान लगायेगी। जबकि मालती मुर्मू द्वारा बताया गया कि वे छोटी की दुकान लेकर बच्चों के खाने-पीने का समान बेचने का काम करेंगी, पार्वती बानरा ने बताया कि वे उक्त राशि से बकरी पालने करेंगी। बंसती मार्डी ने बताया कि वे चाय का स्टॉल लगायेगी और शकुंतला मार्डी ने बताया कि वे भी दुकान करेगी।

खबरें और भी हैं...