पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिना अनुमति फैसला:पुनसा में एनएच के पास हाे रही स्लैग डंपिंग, विराेध,स्लैग के कारण पर्यावरण को हो रहा नुकसान, कार्रवाई करने की मांग

धालभूमगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुनसा गांव में की जा रही स्लैग डंपिंग। - Dainik Bhaskar
पुनसा गांव में की जा रही स्लैग डंपिंग।

धालभूमगढ़ थाना क्षेत्र के पुनसा गांव के पास एनएच 18 के बगल में अवैध रूप से स्लैग डंपिंग का कार्य धड़ल्ले से किया जा रहा है। इस स्लैग का प्रयोग रेलवे थर्ड लाइन में किया जा रहा है। इसका विरोध करते हुए पुनसा गांव निवासी सह अधिवक्ता तपेश दास व अन्य ग्रामीणों ने अंचल अधिकारी व उपायुक्त से इसकी लिखित शिकायत की है।

शिकायत पत्र में तपेश दास ने लिखा है कि जिस जगह में स्लैग की डंपिंग की जा रही है वहां कभी क्रशर चलता था। उसके बगल में वन भूमि हाेने के कारण क्रेशर को प्रशासन द्वारा बंद किया गया था। अब यहां स्लैग डंपिंग किया जा रहा है। इससे पर्यावरण एवं खेतों को नुकसान पहुंच रहा है एवं आगे भी पहुंचने की संभावना है।

तपेश दास ने गालूडीह के उलदा गांव के डंपिंग का मामला को लिखते हुए प्रशासन से इसको तत्काल बंद कराने की मांग की है। ताकि आसपास के क्षेत्र एवं खेतों में प्रदूषण ना फैले। बारिश के दिनाें में लोगों के खेतों को स्लैग से काफी नुकसान भी हो रहा है। एनएच किनारे डंपिंग होने से मोटरसाइकिल साइकिल सवारों को भी दिक्कत हो रही है।

धालभूमगढ़ अंचल अधिकारी सदानंद महतो ने कहा- स्लैग डंपिंग की कोई अनुमति नहीं ली गई है और अंचल से इसकी जानकारी भी नहीं मिली है।

खबरें और भी हैं...