पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बेहतर इलाज:वीडियो गेम खेलने से पिता ने रोका तो 10वीं के छात्र ने जहर खा की जान देने की कोशिश

चाकुलिया7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

वीडियो गेम की लत बच्चों के लिए खतरनाक बनती जा रही है। ताजा मामले में चाकुलिया ब्लॉक के नीमडीहा में दसवीं के 16 वर्षीय छात्र को पिता ने जब वीडियो गेम खेलने से रोका तो उसने गुस्से में जहरीली दवा पी ली। घटना रविवार की है। हालत गंभीर होने पर उसे चाकुलिया सीएचसी में भर्ती करा गया, लेकिन गंभीर स्थिति को देखते हुए झाड़ग्राम रेफर कर दिया गया।

चाकुलिया थाना क्षेत्र नीमडीहा गांव में रविवार को पिता के डांटने पर गुस्से में आकर दसवीं कक्षा के छात्र 16 वर्षीय लड़के ने कीटनाशक पी लिया। परिजनों ने आनन-फानन में 108 एंबुलेंस के सहयोग से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। जहां प्रभारी डॉ. रंजीत मुर्मू ने घायल बच्चे का प्राथमिक इलाज कर बेहतर इलाज के लिए झाड़ग्राम अस्पताल रेफर कर दिया।

जानकारी के मुताबिक, नीमडीहा निवासी बच्चा पढ़ाई छोड़कर रोज की तरह मोबाइल पर गेम खेल रहा था। इसी बीच पिता ने अपने बेटे को गेम खेलने से मना कर दिया और पढ़ाई करने की बात कही। तभी बच्चा मोबाइल में गेम खेलने की जिद करने लगा। गुस्सा में आकर पिता ने उसे डांट दिया। इसी बीच बच्चे ने घर में रखी खेतों में डालने वाली कीटनाशक दवा पी ली। थोड़ी देर में ही उसकी हालत बिगड़ने लगी| परिजनों ने तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया।

खबरें और भी हैं...