निगरानी समिति में स्थान:डीएई के निगरानी समूह में यूसील के सीएमडी डॉ. असनानी को मिला स्थान

जादूगोड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

यूरेनियम कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया लिमिटेड के अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक डॉ. सीके असनानी को भारत सरकार द्वारा डीएई में चलाई जाने वाली तीन लाख करोड़ की लागत से 24 गवर्नमेंट की उच्चस्तरीय योजनाओं की निगरानी समिति में स्थान मिला है।

डाॅ. सीके आसनानी परमाणु ऊर्जा विभाग के तहत एक सार्वजनिक उपक्रम यूरेनियम कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं। डीएई द्वारा गठित एक उच्च स्तरीय परियोजना निगरानी समूह में शामिल किया गया है, जो देशभर में अपनी 24 प्रतिष्ठित परियोजनाओं की समय-समय पर समीक्षा करेगी।

यह कमेटी कैबिनेट सचिवालय के दिशा-निर्देशों के अनुपालन के साथ अन्य मुद्दों का समय पर समाधान करेगी। उल्लेखनीय है कि डॉ. आसनानी ने 2016 में सीएमडी, यूसीआईएल का पदभार ग्रहण करने के बाद, सीपीएसई के प्रदर्शन को बदलने के लिए कई कड़े कदम उठाए, जिसके परिणामस्वरूप लगातार चार वर्षों तक कंपनी की उत्कृष्ट एमओयू प्रदर्शन रेटिंग प्राप्त हुई।

वहीं, वित्तीय घाटे में चल रही कंपनी वर्तमान में फायदे में चल रही है। इनके बेहतरीन प्रदर्शन को देखते हुए सरकार द्वारा इस समूह में रख कर सम्मान दिया है। वहीं कंपनी के सभी मुद्दों एवं रुकावट को भी यूसील सीएमडी डॉक्टर सीके असनानी के नेतृत्व में दूर कर दिया गया।

वहीं, इस सम्मान काे पाने से पूरे यूसील में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। यूसील सीएमडी को बधाई देने वालों का तांता लगा रहा। यूसील के जीएम (पर्सनल) संजय कुमार शर्मा ने उक्त जानकारी दी।

खबरें और भी हैं...