बैंक एकाउंट में फंसा मामला:बैकलाॅग में बहाल 37 शिक्षकाें काे तीन महीने बाद भी वेतन नहीं

जमशेदपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

काेल्हान विश्वविद्यालय की लापरवाही की वजह से बैकलॉग में अलग-अलग कॉलेजों में नियुक्त किए गए 37 शिक्षकों को नियुक्ति के 3 महीने बाद भी वेतन नहीं मिल पाया है। इस वजह से शिक्षकों को आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

इसके लिए कई बार टीचर्स एसेसिएशन अाॅफ काेल्हान यूनिवर्सिटी (टाकू) के अधिकारियों ने विश्वविद्यालय पदाधिकारियों से बात की, किन्तु अभी तक वेतन निर्गत नहीं किया गया। टाकू का कहना है कि इन्हीं शिक्षकों के साथ दूसरे विश्वविद्यालय में ज्वॉइनिंग करने वाले शिक्षकों काे अगले महीने से ही वेतन मिलने लगा।

लेकिन केयू में तीन महीने गुजर जाने के बाद भी वेतन भुगतान लंबित है। समस्या तब ज्यादा गंभीर हो जाती है एक ही संस्था में काम करने वाले दूसरे सीनियर लोगों को वेतन मिलता है और नए लोगों को 3 महीनों से वेतन नहीं मिल रहा हो।

हालांकि विश्वविद्यालय के प्रवक्ता डाॅ पीके पाणि ने कहा- तकनीकी वजहों से इन शिक्षकों के वेतन जारी करने में देरी हुई है। लेकिन अब सारी प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। अगले सप्ताह तक शिक्षकों का वेतन भुगतान कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा- बैंक एकाउंट काे लेकर मामला फंसा था लेकिन अब इसे दूर कर लिया गया है। शिक्षकाें काे इसके लिए परेशान हाेने की जरूरत नहीं है।

खबरें और भी हैं...