पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कायाकल्प अवॉर्ड:बालीगुमा यूपीएचसी व बहरागोड़ा का मानुषमुड़िया पीएचसी राज्य में बेस्ट, मिलेगा 2-2 लाख पुरस्कार

जमशेदपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • केंद्रीय याेजना के विभिन्न श्रेणियाें में जिले के 19 सरकारी अस्पताल चुने गए

केंद्र सरकार की कायाकल्प अवॉर्ड याेजना के तहत पूर्वी सिंहभूम जिले के 19 सरकारी अस्पतालों का विभिन्न श्रेणियाें में चयन हुआ है। शहरी क्षेत्र में बालीगुमा यूपीएचसी (शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र) और ग्रामीण क्षेत्र में बहरागोड़ा के मानुषमुड़िया पीएचसी को राज्य के सर्वश्रेष्ठ पीएचसी का दर्जा मिला है।

दोनों अस्पतालाें काे दो-दो लाख रुपए का पुरस्कार मिलेगा। इसमें 75 प्रतिशत राशि अस्पताल के विकास में, जबकि 25 प्रतिशत राशि कर्मचारियों को प्रोत्साहित करने पर खर्च हाेगी। बाकी 15 अस्पतालों को सांत्वना पुरस्कार मिला है। इस मद में कुल 11 लाख रुपए अस्पतालों को मिलेंगे।

किस श्रेणी में किस केंद्र को मिला पुरस्कार

  • जिला अस्पताल- सदर अस्पताल को सांत्वना पुरस्कार। 3 लाख रु. मिलेंगे।
  • अनुमंडल अस्पताल- मुसाबनी, चाकुलिया व जुगसलाई सीएचसी तथा घाटशिला अनुमंडल अस्पताल को सांत्वना पुरस्कार। चाराें को एक-एक लाख रुपए मिलेंगे।
  • पीएचसी व यूपीएचसी- बालीगुमा यूपीएचसी व मानुषमुड़िया (बहरागोड़ा) पीएचसी को बेस्ट पुरस्कार मिला है। दोनों को दो-दो लाख रुपए मिलेंगे। चाकुलिया के सिंदुरगोरी पीएचसी व गुड़ाबांदा के सिंहपुरा पीएचसी को सांत्वना पुरस्कार में 50-50 हजार रुपए मिलेंगे।
  • हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर- बिरसानगर, हुरलुंग, बहरागोड़ा का जगन्नाथपुर, खंडामौदा व जामशोला तथा मुसाबनी के महुलबेड़ा पीएचसी काे सांत्वना पुरस्कार के तहत 50-50 हजार रुपए मिलेंगे।

अस्पतालों को नंबर-1 बनाने की प्रतियोगिता बढ़ी

कायाकल्प अवॉर्ड की शुरुआत होने पर कर्मचारियों में अपने स्वास्थ्य केंद्र को नंबर-1 बनाने की प्रतियोगिता बढ़ी है। केंद्रीय टीम हर साल अस्पतालाें की सात बिंदुओं पर जांच करती है। उसमें 80 फीसदी से अधिक अंक लाने वाले अस्पताल पुरस्कार पाते हैं।

पुरस्कार पाने वाले सभी कर्मचारियों को बधाई। अस्पतालों को तेजी से अपग्रेड किया जा रहा है। आगे परिणाम और भी अच्छा देखने को मिलेंगे।
- डॉ. एके लाल, सिविल सर्जन।

खबरें और भी हैं...