भास्कर खास / पहले ट्रैवल हिस्ट्री छिपाकर कराया इलाज, फिर तीसरे दिन फोन कर बताया- डॉक्टर साहब हम कोरोना पॉजिटिव हैं, टीएमएच में भर्ती हैं

Firstly, the travel history was given treatment, then on the third day, I called and told- Sir, we are corona positive, admitted to TMH.
X
Firstly, the travel history was given treatment, then on the third day, I called and told- Sir, we are corona positive, admitted to TMH.

  • गोविंदपुर में पॉजिटिव मरीज का इलाज करने वाले डॉक्टर पत्नी और बेटी के साथ सेंटर क्वारेंटाइन
  • 18 से 21 मई के बीच डॉक्टर ने करीब 12 मरीजों का इलाज किया, 6 अन्य लोगों से भी मिले

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:23 AM IST

जमशेदपुर. बिजेंद्र कुमार, छोटा गोविंदपुर जनता मार्केट रोड। जहां एक ही परिवार से छह सदस्य कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इलाका माइक्रो कंटेनमेंट और बफर जोन बनाकर निगरानी हो रही है। इस बीच दैनिक भास्कर की टीम ने दिल्ली से लौटी संक्रमित लड़की और बच्चे का इलाज करने वाले डाॅक्टर से बातचीत की। डॉक्टर ने बताया-संक्रमित परिवार में मरीजों में एक बच्चा भी है, जिसका इलाज कराने के लिए वो लाेग मेरे पास आए थे। बच्चे का इलाज करने वाले फिजिशियन डॉक्टर ने उसे देखने के बाद दवाइयां भी लिखी थी। जब रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई ताे उन लाेगाें ने सूचना दी। इसके बाद टीएमएच में परिवार सहित जांच कराई। रिपाेर्ट निगेटिव आने के बाद पत्नी और बच्चे सहित सेंटर क्वारेंटाइन हुए। वहीं 18 से 21 मई के बीच करीब 12 मरीजों को देखा और छह अन्य लोगों से मिले।  
18 मई, शाम 5 बजे... कोई बाहर से नहीं आया
परिजन- बच्चे को बहुत बुखार है।
डॉक्टर- कब से?
परिजन- दो तीन दिन से।
डॉक्टर- बच्चा कहीं बाहर से या दूसरे शहर-राज्य से तो नहीं आया है?
परिजन- नहीं सर, अचानक बुखार लगा है। परिवार में कोई बाहर से नहीं आया।
डॉक्टर - (जांच करने के बाद) बच्चे को कोल्ड-कफ, बुखार है, मैंने कुछ दवा लिख दी है, समय-समय पर दवा खिला दीजिएगा, बुखार ठीक हो जाएगा।
परिजन- जी सर, ठीक हो जाएगा ना?
डॉक्टर-  हां, वायरल बुखार है, ठीक हो जाएगा।
21 मई, 1.30 बजे फोन पर... हमारा रिपोर्ट पॉजिटिव
परिजन - सर हम वही हैं, जो पहले बच्चे को लेकर आपके पास आए थे, उसके बारे में जरूरी बात करना है।
डॉक्टर- मीटिंग में हैं, बाद में बात करेंगे।
परिजन- सर जरूरी बात है, जिस बच्चे को दिखाने लाए थे, उसी के बारे में।
डॉक्टर -बोलिए।
परिजन- बच्चे को बुखार लगा था, उसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है, हम सभी टीएमएच में भर्ती हैं।
डॉक्टर- सूचना के लिए धन्यवाद। 
डॉक्टर मीटिंग छोड़ टीएमएच पहुंच कोरोना की जांच कराई, रिपोर्ट निगेटिव आई। इसके बाद में पत्नी और बच्चे का चेकअप कराया, उनकी भी रिपोर्ट निगेटिव आई। उसके बाद मैं, पत्नी और बच्चा तीनों क्वारेंटाइन हो गए हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना