पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सख्ती:हनीफिया अंग्रेजी मीडियम स्कूल बंद, गेट में जड़ा ताला नाेटिस बाेर्ड भी हटाया, अब हाॅस्टल खाली करने का दबाव

जमशेदपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • महिला छात्रावास पर हनीफिया वेलफेयर सोसायटी का कब्जा, खाली नहीं किया तो दर्ज होगा केस

कल्याण विभाग के महिला छात्रावास पर कब्जा कर निजी स्कूल चलाने केे मामले में हनीफिया स्कूल के खिलाफ कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू हाे गई है। यहां चल रहे अंग्रेजी मीडियम के स्कूल काे बंद कराया है। बुधवार काे स्कूल में संचालित नामांकन की प्रक्रिया काे राेक दिया। स्कूल परिसर में लगे अंग्रेजी माध्यम के स्कूल के बाेर्ड काे भी हटाया है। दीवाराें पर नाेटिस बाेर्ड पर चूना लगा दिया है। इससे संबंधित सभी कार्यालय काे भी बंद कर दिया है। अभी भी महिला छात्रावास पर हनीफिया वेलफेयर सोसाइटी ने कब्जा किया है। इसे भी जांच कमेटी के पदाधिकारियों ने खाली करने का फरमान स्कूल प्रबंधन काे दिया है।

खाली नहीं करने पर प्रबंधन के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी। मामले में जांच कमेटी बनाने वाले बीडीओ जमशेदपुर प्रवीण कुमार ने कहा - कब्जे की जांच के लिए दाे अलग अलग पदाधिकारियों काे जिम्मेदारी साैंपी थी। दाेनाें ने जांच पूरी कर ली है। अभी अवकाश है। ऐसे में कार्यालय खुलने पर जांच रिपाेर्ट की समीक्षा कर कार्रवाई की जाएगी। काेई भी गैर कानूनी प्रक्रिया स्कूल संचालन काे लेकर अपनाई गई ताे प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई हाेगी।

जांच टीम 3 दिन स्कूल गई, पर नहीं मिले सचिव सरवर आलम

मामले की जांच के लिए जांच टीम तीन दिन स्कूल गई। लेकिन स्कूल प्रबंधन कमेटी के सचिव सरवर आलम टीम के सामने नहीं आए। उन्हाेंने समिति के छोटे पदाधिकारियों काे भेज दिया। चूंकि पूरे मामले में सबसे बड़ा आराेप उन्हीं पर लगा है। कब्जे से लेकर, अंग्रेजी माध्यम का स्कूल चलाने, 10 साल से स्कूल प्रबंधन समिति का चुनाव न कराने व स्कूल परिसर में माेबाइल टावर लगा इसका व्यावसायिक उपयोग करने का आराेप है। लेकिन इसका जवाब देने की जगह सचिव जांच कमेटी से भागते रहे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser