हेल्थ पैप करेगा संचालन:स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- नई तकनीक वाली 256 स्लाइस की सिटी स्कैन मशीन लगाएं; एमजीएम में सिटी स्कैन सेंटर का उद्घाटन

जमशेदपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एमजीएम में मरीज को थी खून की जरूरत, मंत्री ने रक्तदान किया । - Dainik Bhaskar
एमजीएम में मरीज को थी खून की जरूरत, मंत्री ने रक्तदान किया ।

एमजीएम अस्पताल में शनिवार को सिटी स्कैन मशीन का उद्घाटन करने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि 32 स्लाइस के स्थान पर 256 स्लाइस का आधुनिक सिटी स्कैन मशीन लगाएं, ताकि मरीजों को और बेहतर सुविधा मिल सके। पुरानी तकनीक के स्थान पर नई तकनीक की मशीन लगानी चाहिए थी। नई तकनीक की मशीन के रिपोर्ट के आधार पर रिसर्च व हार्ट ब्लॉकेज की 3डी तस्वीर भी सामने आ जाएगी। एमजीएम अस्पताल में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) के तहत मणिपाल हेल्थ मैप द्वारा संचालित रेडियोलाजी जांच सेवाओं का मंत्री बन्ना ने उद्घाटन किया।

उन्होंने कहा कि एमजीएम अस्पताल के विकास पर 400 करोड़ से 750 बेड का अत्याधुनिक अस्पताल का निर्माण होगा। उपकरण व फर्नीचर की खरीदारी के लिए 14 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। जूनियर चिकित्सकों के जर्जर हास्टल को भी बनाया जाएगा। एमजीएम में जल्द ही एमआरआई सहित कई लेटेस्ट मशीन स्थापित करने की उन्होंने बात कही। हेल्थ मैप की ओर से बताया गया कि सभी सेवाएं सरकारी दरों (सीजीएचएस) पर दी जाएगी जो निजी रेडियोलाजी सेंटरों से 50 प्रतिशत कम होगी।

सीटी स्कैन सुविधा का उद्घाटन करने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने मरीज को खून नहीं मिलने के स्थिति में खुद रक्तदान किया। पोटका कालिकापुर के रहने वाले सुबोध भगत की पत्नी सावित्री देवी ने स्वास्थ्य मंत्री को ब्लड नहीं मिलने की बात बताई। इसके बाद मंत्री ने एमजीएम अस्पताल के ब्लड बैंक में रक्तदान किया। सुबोध भगत बुखार व पीलिया से पीड़ित है। इमरजेंसी में उसका इलाज चल रहा है।

खबरें और भी हैं...