पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिजली विभाग:कोल्हान प्रमंडल के तीनों जिलों में बिजली विभाग के 3.50 लाख ग्रामीण उपभोक्ता पर, 130 करोड़ रुपए का बिल बकाया

जमशेदपुर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना काल में मासिक बिल जमा नहीं हो रहा - Dainik Bhaskar
कोरोना काल में मासिक बिल जमा नहीं हो रहा
  • समय पर भुगतान नहीं करने पर डिले पेमेंट सरचार्ज की राशि 65 करोड़ से अधिक
  • ग्रामीण अपने बकाया बिल का भुगतान कर सकें, इसलिए राज्य सरकार ने डीपीएस किया माफ

बिजली विभाग के कोल्हान प्रमंडल के तीन जिले पूर्वी सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां और पश्चिमी सिंहभूम में 3.50 लाख ग्रामीण उपभोक्ता हैं। इन पर विभाग का लगभग 130 करोड़ रुपए का बिजली बिल बकाया है। इसमें समय पर बिल का बकाया भुगतान नहीं करने पर डीपीएस (डिले पेमेंट सरचार्ज) की राशि 65 करोड़ रुपए से अधिक है।

विभागीय अधिकारियों के अनुसार, कोरोना काल में मासिक बिल जमा नहीं हो रहा है। शहरी क्षेत्रों में 45 फीसदी लोग, जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में मात्र 20-30 फीसदी लोगों ने बिजली बिल जमा किया है। राजस्व संग्रह बढ़ाने के लिए राज्य सरकार ने ग्रामीणों के बिजली बिल पर डीपीएस माफ किया है। साथ ही जितनी बिजली खपत हुई, उसे चार किस्त में बकाया भुगतान करने की सुविधा प्रदान की है।

इन ग्रामीण घरेलू उपभोक्ताओं को होगा लाभ

  • 31 मई तक के बकाया बिल पर डीपीएस माफ किया जाएगा।
  • सेटलमेंट के तहत चार किस्त में 25-25 फीसदी राशि का भुगतान करना होगा।
  • जिन उपभोक्ताओं ने पहले ही विभाग को अधिक राशि का भुगतान कर दिया है, उनके बिल में समायोजन होगा।
  • जो ग्रामीण उपभोक्ता चेक से बिला का भुगतान करेंगे और चेक बाउंस हुआ तो उनसे 10 फीसदी जुर्माना वसूला जाएगा।
  • जिन लोगों पर बिजली चोरी व अन्य का केस दर्ज होगा, उन्हें लाभ नहीं मिलेगा।

ग्रामीण इलाकों में लोग बिल भुगतान नहीं कर रहे हैं। कोल्हान में ग्रामीण घरेलू उपभोक्ताओं पर लगभग 130 करोड़ रुपए बकाया है। राज्य सरकार ने पांच जून को ग्रामीणों के घरेलू बिजली बिल पर डीपीएस माफ कर दिया है। ऐसे में अब ग्रामीण क्षेत्रों से बिल जमा होने की उम्मीद है। लोगों को इसका लाभ उठाना चाहिए।

-परितोष कुमार, जीएम, सिंहभूम परिक्षेत्र, बिजली विभाग

खबरें और भी हैं...